नई दिल्ली, एजेंसियां। चक्रवाती तूफान निसर्ग का खतरा महाराष्‍ट्र से लगभग टल गया है। मौसम विभाग के मुताबिक, पोस्ट लैंडफॉल इफेक्‍ट के कारण अभी बारिश और तेज हवाएं जारी रहेंगी, लेकिन हवाओं की गति 50 किमी/घंटे से ज्‍यादा नहीं रहेगी। निसर्ग के केंद्रबिंदु ने लैंडफॉल का चरण 12:30-2:30 बजे तक पूरा कर लिया। ये चक्रवाती तूफान महाराष्‍ट्र से गुजर चुका है और गुजरात की ओर बढ़ गया है। बता दें कि चक्रवात निसर्ग बुधवार दोपहर को महाराष्ट्र के तटों से टकराया था। इस दौरान 120 किलीमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चली, जिसके कारण कई पेड़ उखड़ गए। साथ ही कई इमारतों को भी काफी नुकसान हुआ।

Cyclone Nisarga LIVE Treacking:

मुंबई हवाई अड्डे पर विमानों का आवागमन शुरू

छत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर विमानों का आवागमन शुरू हो गया है। एयरपोर्ट के पब्लिक रिलेशन ऑफिसर ने बताया कि मुंबई से चक्रवाती तूफान का खतरा टल गया है, इसलिए विमानों के टेकऑफ और लैंडिंग शाम 6 बजे से शुरू कर दी गई है। हालांकि, पहले शाम 7 बजे तक एयरपोर्ट बंद रहने की खबर आई थी।

चक्रवात के बाद कई बड़े पेड़ उखड़े

पालघर के अलीबाग इलाके में चक्रवात के बाद कई बड़े पेड़ जड़ समेत उखड़ गए। जन जीवन अस्त व्यस्त। पेड़ों की कटाई और सड़कों की सफाई का काम जारी।

मुंबई और थाणे में लैंडफॉल इफेक्ट

शुभांगी भूटे वैज्ञानिक IMD ने निसर्ग के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि ये गंभीर चक्रवात रायगढ़ के अलीबाग के साउथ में 12:30-2:30 बजे तक लैंडफॉल हो चुका है। मुंबई और थाणे में हम इसका पोस्ट लैंडफॉल इफेक्ट देख रहे हैं। अगले 6 घंटों में ये चक्रवाती तूफान बन जाएगा। उसके बाद इसका प्रभाव मध्य महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में रहेगा। जब तक ये स्थिति पूरी तरह खत्म नहीं हो जाती तब तक मानसून आने में समय लगेगा। 

120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से टकराया तूफान

मौसम विभाग के मुताबिक, चक्रवाती तूफान निसर्ग लगभग 120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से टकराया है। इसकी वजह से तेज हवाओं और बारिश के साथ कई जगहों पर पेड़ टूटकर गिर गए हैं। तेज हवा और बारिश के बीच लोगों को घरों में रहने की हिदायत दी जा रही है। उधर, तटीय इलाकों में जाने से रोका गया है।

उड़ गई इमारत की छत

चक्रवात तूफान निसर्ग के महाराष्‍ट्र के तट से टकराने के बाद तेज हवाएं चल रही हैं। रायगढ़ का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें एक इमारत की छत हवा में उड़ती नजर आ रही है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि हवा की गति कितनी होगी। 

7 बजे तक मुंबई हवाई अड्डे पर नहीं होगी विमानों की टेक-ऑफ या लैंडिंग

चक्रवाती तूफान निसर्ग के चलते हवाई छत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा पर शाम 7 बजे तक किसी भी विमान की कोई टेक-ऑफ या लैंडिंग नहीं होगी। महाराष्‍ट्र से लगभग 2 बजे के आसपास तूफान टकराया और लैंडफॉल के 3 घंटे तक चलने का अनुमान है। ऐसे में एहतियातन विमान के टेक-ऑफ और लैंडिग पर रोक लगाई गई है, ताकि कोई बड़ी घटना न घट जाए।

- छत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा मुंबई के पीआरओ ने कहा कि हवाई अड्डे के रनवे पर आज एक लैंडिंग हुई।जिसमें फेड एक्स फ्लाइट 5033 बेंगलुरु से आई थी। विमान को रनवे से हटाया गया। कोई गड़बड़ी नहीं हुई है।

- छत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा मुंबई की ओर से जानकारी दी गई है कि आज शाम 7 बजे तक मुंबई में हवाई अड्डे पर कोई टेक-ऑफ या लैंडिंग नहीं होगी।

- महाराष्ट्र के तट से चक्रवाती तूफान निसर्ग के टकराने के बाद तेज हवाओं के कारण रायगढ़ में एक इमारत के ऊपर टिन की छत उड़ गई।

- अलीबाग के तट से टककाने के बाद अब यह धीरे-धीरे मुंबई और ठाणे की ओर बढ़ रहा है। बता दें कि मुंबई से अलीबाग 95 किलोमीटर दूर दक्षिण में स्थित है।

- मुंबई में बांद्रा-वर्ली समुद्री लिंक पर गाड़ियों की आवाजाही पूरी तरह से बंद कर दी गई। ऐसा चक्रवाती तूफान निसर्ग को देखते हुए किया गया। निसर्ग ने अब से थोड़ी देर पहले महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में दस्तक दी। यह तूफान अलीबाग तट से टकार चुका है।

- महाराष्ट्र के रत्नागिरी से भी चक्रवाती तूफान निसर्ग टकराया है। यहां तूफान के टकराने के बाद इलाके में तेज हवाएं और तटों पर उच्च ज्वार से रत्नागिरी क्षेत्र प्रभावित हो गया है।

- चक्रवाती तूफान निसर्ग महाराष्ट्र के तट से टकरा गया है। यह प्रक्रिया अगले 3 घंटों के दौरान पूरी हो जाएगी। महाराष्ट्र के अलीबाग में यह तूफान अब से थोड़ी देर पहले टकराया है।तूफान निसर्ग अलीबाग के तट से टकरा गया है।

- चक्रवाती तूफान निसर्ग सबसे पहले आज महाराष्ट्र के तट से टकराया। मुंबई में इसकी वजह से तेज हवाएं चलीं और बारिश भी हुई। महाराष्ट्र के तटीय इलीकों से टकराने की यह प्रक्रिया अगले 3 घंटों तक चलती रहेगी।

- एनडीआरएफ के महानिदेशक एसएन प्रधान के मुताबिक लगभग 43 राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) की टीमें दोनों राज्यों में तैनात हैं। जिनमें से 21 महाराष्ट्र में हैं। दोनों राज्यों के चक्रवात स्थल से लगभग 1 लाख लोगों को निकाला गया है।

अब तक लगभग 40,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया

एनडीआरएफ की टीम बीएमसी के साथ मिलकर वर्सोवा के पास के तटीय इलाकों से लोगों को सु​रक्षित स्थानों पर पहुंचाने का काम जारी है। महाराष्ट्र के विभिन्न स्थानों (समुद्री बेल्ट क्षेत्रों) से अब तक लगभग 40,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। 

अगले 24 घंटों के दौरान भारी बारिश का अनुमान 

अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर कोंकण (मुंबई, पालघर, ठाणे, रायगढ़ जिले) और उत्तर मध्य महाराष्ट्र में भारी बारिश का अनुमान है। चक्रवात निसर्ग के मद्देनजर मुबई में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए गए हैं, ताकि लोगों के जीवन, स्वास्थ्य या सुरक्षा को कोई खतरा न हो। मुंबई के पुलिस आयुक्त कार्यालय ने  इसकी जानकारी दी।

घर के अंदर रहें-BMC

बृहन्मुंबई नगर पालिका (BMC) ने कहा है भारी बारिश के दौरान अपने घर के अंदर रहें, लेकिन अगर किसी अपरिहार्य कारणों की वजह से आपको अपनी कार चलाने की आवश्यकता पड़ती है तो, कृपया आप हथौड़ा या ऐसी वस्तुओं को साथ रखें जो आपकी कार के दरवाजों के जाम होने की स्थिति में कांच को तोड़ने में आपकी मदद कर सकें।

मंगलवार शाम से बारिश शुरू

बता दें कि मुंबई समेत महाराष्ट्र के महानगरीय क्षेत्रों में मंगलवार शाम से बारिश शुरू हो गई। रात में बारिश ने रफ्तार पकड़ ली। मौसम विभाग द्वारा मंगलवार रात 10.30 बजे जानकारी दी गई कि मुंबई और आसपास के इलाकों में शाम को बारिश शुरू हो गई और अब इसने रफ्तार पकड़ ली है।

5 ट्रेनों को रीशेड्यूल किया गया

मुंबई टर्मिनल से रवाना होने वाली 5 ट्रेनों को रीशेड्यूल किया गया है, जबकि 2 ट्रेनें जो मुंबई टर्मिनल पर आने वाली थीं, उन्हें नियमित रूप से चलाई जाएंगी और एक ट्रेन को डायवर्ट किया गया है। भारतीय रेलवे ने इसकी जानकारी दी है।

NDRF की टीम मंबई पहुंची

 चक्रवात निसर्ग के मद्देनजर  एनडीआरएफ (राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल) की टीमें आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा से मुंबई पहुंच गई हैं।

मुंबई हवाई अड्डे से कुल 9 विमानों का संचालन होगा

मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से कुल 19 विमानों का संचालन होगा। इनमें से 11 यहां से उड़ान भरने वाले हैं और 8 यहां लैंड करने वाले हैं। उड़ानों का संचालन एयरएशिया इंडिया, एयर इंडिया, इंडिगो, गोएयर और स्पाइसजेट द्वारा किया जाएगा। 

मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में  बारिश की भविष्यवाणी की

समाचार एजेंसी पीटीआइ के अनुसार भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) मुंबई के उपमहानिदेशक केएस होसलिकर  ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी। विभाग ने अगले 24 घंटों में महानगर के अधिकांश हिस्सों में मध्यम बारिश की भविष्यवाणी की है।

राहत और बचाव कार्य जारी

महाराष्ट्र के पालघर के जिला प्रसाशन ने मंगलवार को 'निसर्ग' चक्रवात के मद्देनजर चेतावनी जारी की। बुधवार को इस क्षेत्र के चक्रवात से प्रभावित होने की आशंका है। कल शाम को यहां से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने का काम शुरू हुआ। एनडीआरएफ के निरीक्षक जेडी शिव प्रसाद राव ने समाचार एजेंसी एएनआइ को बताया, 'चक्रवात के कारण जिलों में तेज हवा चलने और बारिश होने की संभावना है।

NDRF की 15 टीमें तैनात

समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) की 15 टीमों को निसर्ग चक्रवात के मद्देनजर महाराष्ट्र में तैनात किया गया है - मुंबई में तीन टीमें, रायगढ़ में चार टीमें, पालघर, ठाणे और रत्नागिरी में दो-दो टीमें और एक-एक टीम सिंधुदुर्ग और नवी मुंबई में तैनात हैं। इन जिलों के प्रशासन को राज्य सरकार ने कहा है कि सभी लोगों कोराहत केंद्रों में पहुंचा दिया जाए।

Posted By: Tanisk

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस