पटना, [जागरण ब्यूरो]। एक माह के भीतर दो महिला मंत्रियों के छोड़कर जाने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को अपने मंत्रिमंडल में एक और चेहरा शामिल किया। धमदाहा से विधायक लेसी सिंह को नीतीश ने मंत्री बनाया। लेसी ने राजभवन में मंत्री पद की शपथ ली। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि मंत्रिमंडल का पूर्ण विस्तार लोकसभा चुनाव बाद किया जाएगा। मंत्रिमंडल में कोई महिला सदस्य नहीं रह गई थीं, इसलिए अभी केवल लेसी सिंह को मंत्री बनाया जा रहा है। उन्हें राज्यपाल डीवाई पाटिल ने शपथ दिलाई।

दरअसल, सोमवार को बिहार की उद्योग एवं आपदा प्रबंधन मंत्री रेणु कुशवाहा ने अचानक इस्तीफा दे दिया था। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उन्हें मनाने की कोशिश की लेकिन नैतिकता का हवाला देते हुए कुशवाहा अपने फैसले पर टिकी रहीं। इससे पहले सोमवार को ही पूर्णिया जिले में हुई भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की रैली के दौरान रेणु कुशवाहा के पति विजय सिंह कुशवाहा भाजपा में शामिल हो गए। जिसके तुरंत बाद रेणु ने जदयू का मंत्री पद त्याग दिया। गत माह भी नीतीश कैबिनेट में शामिल महिला समाज कल्याण मंत्री परवीन अमानुल्लाह ने भी पद व पार्टी से इस्तीफा देकर आम आदमी पार्टी का दामन थाम लिया था। जिसके टिकट पर वे लोकसभा चुनाव भी लड़ने जा रही हैं। भाजपा से अलग होने के दौरान भी कई मंत्री नीतीश मंत्रिमंडल से गए थे। इसके बाद दो महिला मंत्रियों ने भी अपने पद छोड़े। लेकिन नीतीश कुमार ने इन खाली पदों में से सिर्फ एक को भरा। लेसी सिंह बिहार के हिस्ट्रीशीटर रहे बूटन सिंह की पत्नी हैं, जिनकी कई साल पहले हत्या कर दी गई थी। लेसी बिहार राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष भी रह चुकी हैं।