तिरुअनंतपुरम (प्रेट्र)। भारी बारिश और बाढ़ से बेहाल केरल के दर्द को आम से लेकर खास, तो देश से लेकर दुनिया तक के लोग महसूस कर रहे हैं। एक ओर बिना घड़ी के काटे देखें, सेना युद्धस्तर पर राहत-बचाव कार्य में जुटी है। तो दूसरी अन्य राज्य व राजनेता भी केरल की मदद के लिए सामने आए हैं। शिवसेना के विधायकों और सांसदों ने फैसला किया है कि वे अपने एक महीने के वेतन को केरल मुख्यमंत्री रिलीफ फंड में डोनेट करेंगे, ताकि बाढ़ पीड़ितों की मदद हो सके।

सेना के साहस का परिचय देती ये तस्वीर
केरल में आई भीषण बाढ़ के दौरान सेना के जवानों ने हजारों लोगों को नई जिंदगी दी है। सब अपने-अपने तरीके से उनका शुक्रिया भी अदा कर रहे है। ऐसी ही एक तस्वीर भी तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। चारों ओर पानी ही पानी और उस पानी में डूबी एक इमारत की छत पर बड़े-बड़े अक्षरों में लिखा है THANKS...ये बड़ा सा थैंक्स सेना के जवानों के लिए है। दरअसल, 17 अगस्त को इसी घर से भारतीय नौसेना के कमांडर विजय वर्मा ने बड़ी बहादुरी से दो महिलाओं को एयरलिफ्ट कर बचाया था। अब इस इलाके में पानी कम होने लगा है और लोग भी अपने घर लौटने लगे हैं। इस बीच इसी इमारत की छत पर लोगों ने भारतीय जवानों के लिए सफेद रंग से अंग्रेजी में थैंक्स पेंट किया है।

'केरल को भोजन/कपड़ा नहीं इलेक्ट्रीशियन-प्लम्बर चाहिए'
केरल बाढ़ के ताजा हालात पर केंद्रीय मंत्री केजे अल्फोंस ने कहा, 'यहां घरों में बिजली नहीं है। बढ़ईगिरी, नलसाजी सब खत्म हो चुकी है। केरल के हालात को सुधारने के लिए हमें हजारों की संख्या में इलेक्ट्रीशियन, प्लम्बरों और कार्पेंटरों की जरूरत है। हमें कपड़ों या भोजन की जरूरत नहीं है। केरल की लाइफ को दोबारा पटरी पर लाने के लिए तकनीकी क्षमताओं के जानकार लोगों की जरूरत है।'

केरल बाढ़ अपडेट:

- निजामुद्दीन- एर्नाकुलम मंगला लक्षद्वीप एक्सप्रेस, मैंगलोर-नागेरकोइल परशुराम एक्सप्रेस, जामनगर-तिरूनेलवेली एक्सप्रेस और लोकमान्य तिलक टर्मिनस- तिरुवनंतपुरम नेत्रवराथी एक्सप्रेस शोरनूर जंक्शन से अपने निर्धारित समय से चलेंगी। - 

- भारतीय नौसेना के बचाव दल ने त्रिशूर में रविवार को 109 लोगों को रेस्क्यू किया। पुल टूट जाने के कारण ये लोग यहां फंस गए थे।

अदम्य साहस का परिचय दे रहे जवान
केरल में अपनी जान जोखिम में डालकर हजारों-लाखों लोगों की जान बचाने में जुटे सशस्त्र सेना के जवानों ने अदम्य साहस का परिचय दिया है। ऐसी ही एक घटना में मकान की छत तक पानी पहुंचने पर वायुसेना के एक अफसर ने एक नवजात को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। विंग कमांडर प्रशांत ने लगभग पूरे डूब चुके दो मंजिला मकान की छत पर रस्सी की सहायता से पानी में डूब रहे एक मासूम को बचा लिया। प्रशांत केरल में लोगों को बचाने में जुटे उन अनाम योद्धाओं में से हैं, जो बिना किसी हिचक के अपने कर्तव्यों का पालन कर रहे हैं।

एक अन्य टीवी फुटेज में हॉस्टल के कमरे में फंसी कुछ लड़कियों को बचाने के लिए वायुसेना का हेलिकॉप्टर आया। दूसरी ओर, कमांडर विजय वर्मा ने हेलिकॉप्टर की मदद से एक गर्भवती महिला को प्रसव पीड़ा के दौरान ही एक निर्जन इमारत से सुरक्षित बाहर निकाला। बाद में उस महिला ने एक नन्हें से बालक को जन्म दिया। इसी तरह सोशल मीडिया पर भारतीय नौसेना के कैप्टन पी.राजकुमार ने 25 से अधिक लोगों को एयरलिफ्ट कर उनकी जान बचाई है।

बाढ़ पीड़ितों को एक दिन का वेतन देंगे छत्तीसगढ़ के पुलिस अफसर
केरल के बाढ़ पीड़ितों के लिए छत्तीसगढ़ के पुलिस अफसरों ने अपना एक दिन का वेतन देने की घोषणा की है। केरल में सदी के भीषण बाढ़ में देश-दुनिया के लोग मदद का हाथ बढ़ा रहे हैं। अब इसमें छत्तीसगढ़ आइपीएस एसोसिएशन और राज्य पुलिस एसोसिएशन भी सामने आया है। अफसरों ने बताया कि उन्होंने एक दिन का वेतन केरल आपदा फंड में देने का निर्णय लिया है। राज्य सेवा के पुलिस अधिकारियों ने भी अपना वेतन केरल के मुख्यमंत्री आपदा कोष में देने का निर्णय लिया है।

जलप्रलय ने लील ली 357 जिंदगियां
केरल में प्रकृति ने सदी की सबसे बड़ी तबाही मचाई है। जल प्रलय अबतक 357 जिंदगियों को लील चुका है, जबकि सात लाख से अधिक लोग बेघर हो चुके हैं। बारिश और बाढ़ की मार झेल रहे केरल के 3.53 लाख पीड़ित लोग 3026 राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं। 40,000 हेक्टेयर क्षेत्र में फसलें बर्बाद हो गई हैं। 1,000 से ज्यादा घर पूरी तरह से नष्ट हो गए जबकि 26,000 घरों को नुकसान पहुंचा है। कुल मिलाकर केरल बाढ़ में अब तक 21,000 करोड़ का नुकसान हो चुका है।

सभी जिलों से हटाया गया ऑरेंज अलर्ट
इस बीच केरल के सभी जिलों को ऑरेंज अलर्ट हटा लिया गया है। जबकि इडुक्की, कोजीकोड, कन्नूर में येलो अलर्ट जारी है। मौसम विभाग के अनुसार, केरल में इस मानसून में सामान्य से 42 फीसद ज्यादा बारिश हुई है। वहीं सर्वाधिक प्रभावित जिले इडुक्की में सामान्य से 92 फीसद ज्यादा और पलक्कड में समान्य से 72 फीसद ज्यादा बारिश हुई है।

अगले 5 दिनों में कम होगी बारिश
मौसम विभाग के अधिकारी मृत्युंजय महापात्रा ने बताया है कि आने वाले 4-5 दिनों में केरल में भारी बारिश का स्तर कम होगा और धीरे-धीरे यहां का जलस्तर भी कम हो जाएगा। केरल में 8 अगस्त से हो रही तेज बारिश के चलते वहां आई बाढ़ और भूस्खलन से राज्य मे हाहाकार मचा हुआ है।

केरल बाढ़ में हुई भारी तबाही से हिला बॉलीवुड
बारिश और बाढ़ की मार झेल रहे केरल की मदद के लिए फिल्म इंडस्ट्री भी बढ़-चढ़कर आगे आयी है। जिसमें दक्षिण भारतीय फिल्म इंडस्ट्री तो है ही, बॉलीवुड ने भी इस आपदा में प्रभावित लोगों की मदद करने का बीड़ा उठाया है। बॉलीवुड के तमाम सेलेब्रिटीज केरल में बाढ़-पीड़ितों की मदद कर रहे हैं और दूसरों से अपील कर रहे हैं। अमिताभ बच्चन, अभिषेक बच्चन, शाहरुख खान, एआर रहमान जैसे सितारों ने केरल के लोगों के लिए डोनेशन दिया है।

यह भी पढ़ें: जानिये- भारतीय मेट्रो शहर भारी बारिश के लिए क्यों नहीं हैं तैयार?

Posted By: Nancy Bajpai

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप