इडुक्की[केरल], एएनआइ। केरल, जहां पिछले साल एक हथिनी के साथ बर्बरता का मामला पूरे हिंदुस्तान में छा गया था, जिसके दर्द को सभी देशवासियों ने महसूस किया उसी केरल में एक बार नई घटना सामने आई है। केरल के इडुक्की जिले में एक तेंदुए को मारकर उसका मांस खाने का मामला सामने आया है। इस घटना में पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के मुताबिक, इडुक्की जिले में पांच ग्रामीणों पर एक तेंदुए को मारकर उसका मांस खाने का आरोप लगा है। वन अधिकारियों ने बताया कि इडुक्की जिले के मनकुलम के रहने वाले पांच लोगों को तेंदुए का मांस खाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। 

यह घटना 20 जनवरी को इडुक्की जिले के मनकुलम क्षेत्र में हुई थी। पांचों आरोपियों की पहचान विनोद, कुरीकोज, बीनू, कुंजप्पन और विंसेंट के रूप में हुई, जिन्हें मनकुलम वन रेंज अधिकारी उधय सुरियान ने गिरफ्तार किया। सुरियान ने कहा कि विनोद ने अपने घर के आसपास जंगली जानवरों का शिकार करने के लिए एक जाल रखा था, जो एक जंगल के पास स्थित है।

वन अधिकारी ने बताया कि तेंदुए के जाल में फंसने के बाद, विनोद और अन्य ने जानवर को मार डाला उसका मांस पकाया और उसका सेवन किया। उन्होंने आगे बताया कि आरोपियों ने जानवर के दांत, नाखून और त्वचा को अलग रखा क्योंकि वे उन्हें बेचना चाहते थे।

आरोपियों ने तेंदुए को क्यों मारा ?

आरोपियों के खिलाफ वन्यजीव संरक्षण अधिनियम की कई धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। बताया जा रहा है कि तेंदुए के फार्म में घुसने से ये लोग बहुत ही परेशान थे। बुधवार(20 जनवरी) को इन लोगों ने तेंदुए के बच्चे को पकड़ लिया और उसकी हत्या करके उसके मांस को पका कर खा लिया।

गौरतलब है कि केरल में पिछले साल एक हथिनी के बर्बरता ने पूरे हिंदुस्तान को दर्द दिया था। केरल के मलप्पुरम में कुछ लोगों ने गर्भवती हथिनी को पटाखों से भरा अनानास खिला दिया था। इसके बाद उसकी मौत हो गई थी। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप