बेंगलुरू। कर्नाटक के केरूर में दो समुदायों के बीच हिंसा की घटना सामने आई है। दो समूहों के बीच तीखी बहस के बाद तीन लोगों में मारपीट हो गई, जिसमें वे घायल हो गए। इसके कारण बागलकोट में दो समुदायों में हिंसा शुरू हो गई। इस हिंसा में कई दुकानों में आग लगा दी गई और कई रेहड़ी को क्षतिग्रस्त किया गया है।

केरूर में लगाई गई धारा 144

बागलकोट के डीसी पी सुनीलकुमार ने बताया कि अब हालात सामान्य है। उन्होंने बताया कि इस घटना में हिंदू जागरण वेदिके के कार्यकर्ता शामिल थे। केरूर में 8 जुलाई सुबह 8 बजे तक धारा 144 लागू कर दी गई है।

केरूर के स्कूलों और कालेजों में छुट्टी घोषित

बता दें कि पुलिस ने घटना के सिलसिले में 10 लोगों को हिरासत में लिया है और उनसे पूछताछ कर रही है। पुलिस ने बताया कि घटना के तुरंत बाद बदमाशों का एक समूह बाजार में घुस गया और गाड़ियों में आग लगा दी और बाइकों में तोड़फोड़ की। वहीं हिंसा के चलते केरूर में स्कूलों और कालेजों में छुट्टी की घोषणा कर दी गई है।

सीएम बोम्मई ने बताई हिंसा की वजह

कर्नाटक के सीएम बोम्मई ने इस हिंसा को व्यक्तिगत कारणों से हुई घटना बताया है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने पहले ही स्थिति को नियंत्रित कर लिया है और इस मामले में कुछ गिरफ्तारियां की गई हैं। वहीं घायलों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। सीएम ने बताया कि हमने दोनों समुदायों को शांति बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। घटनास्थल पर पुलिस के कई आला अधिकारी मौजूद हैं।

Edited By: Mahen Khanna