जागरण संवाददाता, सिरसा। पिछले साढे़ चार साल से कांग्रेस सरकार को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायक गोपाल कांडा के दफ्तर से अब कांग्रेस के झंडे व साइन बोर्ड हट गए हैं और भगवा रंग नजर आने लगा है।

कांडा के चंडीगढ़ पहुंचने के साथ सिरसा में भी कांग्रेस से दूर हटने की तैयारी आरंभ हो गई। कांडा के कैंप कार्यालय से कांग्रेसी झंडे हटने के अलावा मुख्यमंत्री के साथ कांडा की तस्वीरें भी हटा दी गई। यहां पर मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के साथ विधायक गोपाल कांडा के बैनर भी हटाए गए हैं। कांडा के प्रवक्ता के मुताबिक, एक मई को तैयार होंगे, इसलिए पुराने बैनर से सीएम की तस्वीर हटा दी गई है।

कांडा ने बताया कि दो मई को गुड़गांव में प्रस्तावित कार्यक्रम में पानी की बोतल पर पार्टी का स्टीकर लगा होगा। वाहनों के लिए पार्टी के नाम से स्टीकर बनाए गए हैं। प्रत्येक वाहन पर भगवा झंडा व पार्टी का स्टीकर लगाया जाना जरूरी किया गया है।