पणजी, एजेंसियां: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा गोवा के दो दिवसीय दौरे पर हैं। आज उनके दौरे का दूसरा दिन है। पणजी में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए, नड्डा ने प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और देश के पूर्व रक्षा मंत्री दिवंगत मनोहर पर्रिकर को याद किया। अपने भाषण में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा, ‘पर्रिकर ने गोवा के लोगों की जीवनशैली में प्रगति का सपना देखा था। मुझे याद है कि जब वो अपने आखिरी वक्त में बीमारी से जूझ रहे थे तब भी वो अपनी जिम्मदारियों ने नहीं भागे। उन्होंने लाइफ सपोर्ट सिस्टम पहनकर अटल-सेतु पुल का निरीक्षण किया था और कहा था, "हाउ इज द जोश"।

विपक्ष पर निशाना

पणजी में पार्टी कार्यक्रताओं को संबोधित करते हुए जेपी नड्डा ने कोरोना महामारी के दौरान सरकार के अथक प्रयासों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया, जब 2020 में COVID की शुरुआत हुई, तो किस तरह अप्रैल में एक टास्क फोर्स का गठन किया गया। उन्होंने बताया, भारत अपने खुद के टीके विकसित करने के लिए तैयार था। प्रधानमंत्री ने 9 महीने के अंदर देश को 2 वैक्सीन दीं, लेकिन इस महामारी के दौर में भी विपक्ष ने नकारात्मक भूमिका निभाई। विपक्षी पार्टियां लोगों से लगातार टीका न लगवाने की अपील करती थीं।

सबका हुआ टीकाकरण

वैक्सीन के मुद्दे पर विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए जेपी नड्डा ने कहा, विपक्ष वैक्सीन को "मोदी टीका", "बीजेपी का टीका" कहते थे। आज वे सभी वैक्सीन लगवा चुके हैं। मैं उनसे पूछता हूं, "मोदी टीका कैसा था?" क्या आपको बीमारी से सुरक्षा मिली? विपक्ष ने लोगों को गुमराह किया। उन्होंने पीएम का विरोध करते हुए भारत के लोगों का विरोध किया और अब वो वोट मांग रहे हैं।

Edited By: Amit Singh