नई दिल्ली, एएनआई। वित्तीय संकट से जूझ रही विमानन कंपनी जेट एयरवेज के कर्माचारी परिचालन बंद होने के बाद बेहद परेशानी के दौर से गुजर रहे हैं। शुक्रवार को अपनी इसी समस्या को लेकर कंपनी के एक प्रतिनिधिमंडल ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात की। सीएम फडणवीस ने चुनाव खत्म होने के बाद उनकी इस समस्या का समाधान निकालने का वादा किया है।

जेट एयरवेज के प्रतिनिधमंडल ने मुख्यमंत्री से कहा है, 'हम कम वेतन पर भी काम करने के लिए तैयार हैं, लेकिन हम चाहते हैं कि जेट एयरवेज वापस आए।' मुख्यमंत्री ने कहा है कि 13 मई के बाद ही वह इस मामले में हस्तक्षेप कर पाएंगे। 

बता दें कि कुछ समय पहले टाटा समूह के ताज होटल ने जेट कर्मचारियों को अपने यहां नौकरी देने की घोषणा की थी। हालांकि इस बात का खुलासा नहीं किया गया कि वह कितने कर्मचारियों को नौकरी देने वाला है। लेकिन जेट के केबिन क्रू को नौकरी देने की बात कही गई थी। फिलहाल ये नौकरियां मुंबई में रहने वालों को ही दी जाएंगी। 

इसके अलावा एयरलाइन ने अपने कर्मचारियों के लिए प्रतिद्वंदी कंपनियों और ई-कॉमर्स कंपनियों से भी बात की थी। जेट के एक वरिष्ठ अधिकारी राहुल तनेजा ने बताया कि इनमें एयरलाइंस, स्पाइसजेट और अमेजन कंपनी शामिल हैं। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Neel Rajput

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप