जागरण संवाददाता, मेरठ। जैन मुनि तरुण सागर महाराज के लव-जिहाद संबंधी बयान पर माहौल गरमाने लगा है। दारुल उलूम देवबंद के उलमा-इकराम की ओर से तरुण सागर महाराज के बयान को नफरत भड़काने वाला करार देने पर सियासत गर्मा उठी है।

तरुण सागर ने रविवार को भैंसाली मैदान में प्रवचन के दौरान लव-जिहाद को षड्यंत्र करार देते हुए इसे हिंदुओं को मुस्लिम बनाने वाला कदम बताया था। उन्होंने कहा था कि इसे न रोका गया तो भारत जल्द ही पाकिस्तान बन जाएगा।

इस पर दारुल उलूम वक्फ के वरिष्ठ उस्तान मुफ्ती आरिफ कासमी ने जैन मुनि की टिप्पणी को नफरत फैलाने वाला बताया। उन्होंने कहा कि मुनि राजनीति से प्रेरित हैं, यह बयान अलगाव पैदा करने वाला है।

भारतीय जैन मिलन के संरक्षक व भाजपा के महानगर अध्यक्ष सुरेश जैन रितुराज ने कहा कि जैन मुनि का किसी भी पार्टी से कोई लेना-देना नहीं है। वह समाज को दिशा दिखाने के साथ ही जागरूक कर मानवता का पाठ पढ़ाते हैं।

मंगलवार को कचहरी रोड स्थित असौड़ा हाउस परिसर में घर के बाहर गाड़ी खड़ी करने पर तरुण सागर जी महाराज के अनुयायी के साथ मारपीट की गई।

पढ़ेंः लव जिहाद से मथुरा में तनाव

लव जिहाद के आरोपी को गिरफ्तार करने गई पुलिस पर हमला

Posted By: Sachin k