हैदराबाद (आइएएनएस)। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप अगले सप्ताह यहां वैश्विक उद्यमिता सम्मेलन (जीईएस) में हिस्सा लेने के साथ-साथ शहर के इतिहास से भी रूबरू होंगी। 28 नवंबर को वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ सम्मेलन को संबोधित करेंगी। इवांका हैदराबाद दौरे को लेकर काफी उत्साहित हैं।

सम्मेलन से इतर इवांका 28 नवंबर की शाम पुराने हैदराबाद शहर में चारमीनार और फलकनुमा पैलेस का दौरा करेंगी। वह फलकनुमा में 101 सीटों वाले डाइनिंग टेबल पर प्रधानमंत्री मोदी और अमेरिका एवं भारत के शीर्ष अधिकारियों के साथ खाना खाएंगी। यह दुनिया का सबसे बड़ा डाइनिंग टेबल और पैलेस का मुख्य आकर्षण है। यह भव्य पैलेस हैदराबाद के पूर्व शासक निजाम का निवास था।

करीब एक दशक पहले ताज गु्रप ने इसे होटल में बदल दिया है। इवांका शहर के प्रतीक चारमीनार भी जाएंगी। किसी भी पर्यटक के लिए चारमीनार देखे बिना हैदराबाद की यात्रा अधूरी होती है। इवांका खरीदारी के लिए चारमीनार के लाडबाजार भी जा सकती हैं। यह लाह की चूडि़यों और दुल्हन के परिधानों के लिए मशहूर है। तेलंगाना के अधिकारियों के मुताबिक, वह ऐतिहासिक मक्का मस्जिद और चौमहल्ला पैलेस भी जा सकती हैं। हालांकि अमेरिकी अधिकारियों ने सुरक्षा को लेकर उनके दौरे के कार्यक्रम को गोपनीय रखा है।

मिलकर करेंगे समावेशी विकास

इवांका ने कहा है कि उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से एक फिर मिलने का बेसब्री से इंतजार है। गुरुवार को वाशिंगटन में उन्होंने कहा कि भारत और अमेरिका आर्थिक अवसरों को बढ़ाने और समावेशी विकास के लिए मिलकर काम करेंगे। उनके लिए सम्मेलन का मकसद विचारों के आदान-प्रदान, व्यापक नेटवर्क और उद्यमियों के सशक्तीकरण के लिए खुला और सहयोगी माहौल तैयार करना है।

यह भी पढ़ें : पहली बार भारत आ रहीं ट्रंप की बेटी इवांका, हैदराबाद से हटाए एक हजार भिखारी

Posted By: Srishti Verma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस