नई दिल्ली, एएनआई। कनाडा के रक्षा मंत्री हरजीत सज्जन ने खालिस्तानी होने वाले बयान पर बात करते हुए कहा है कि वो यहां पर राजनीति करने नहीं आए हैं। दरअसल पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सज्जन और कनाडा सरकार में उनके सिख सहयोगियों को खालिस्तान समर्थक और खालिस्तानियों का हमदर्द बताया है।

इस मामले पर हरजीत सज्जन ने कहा कि इस तरह की बातों से थोड़ा दर्द तो होता है लेकिन वो यहां पर राजनीति करने नहीं आए हैं।  उन्होंने कहा कि मेरे द्वारा उठाए गए कदम उनके काम को बयां करते हैं।

एक तरफ अमरिंदर सिंह जहां सज्जन को खालिस्तानी बता रहे हैं तो वहीं विदेश मंत्रालय उन्हें वॉर हीरो बता रहा है।विदेश मंत्रालय ने 5 अप्रैल को जिस बायो नोट को पंजाब सरकार के पास भेजा है उसमें सज्जन का एक ऐसे शख्स के तौर पर परिचय दिया है जिसने कनाडा और अपने समुदाय की सेवा की है और जो सैनिक और पुलिस अफसर दोनों रह चुका है। नोट में यह भी बताया गया है कि कैसे अफगानिस्तान में आतंकवादरोधी अभियान में भूमिका निभाई।

नोट में बताया गया है कि हरजीत सज्जन कनाडाई सेना के रिटायर्ड लेफ्टिनेंट कर्नल हैं जो युद्ध में भी हिस्सा ले चुके हैं। वह बोस्निया में भी तैनात रह चुके हैं और अफगानिस्तान के कांधार में 3 अलग-अलग समय अपनी सेवाएं दे चुके हैं।

नोट में बताया गया है कि कांधार में तालिबान का प्रभाव कम करने में भूमिका निभाने के लिए सज्जन को कई सम्मान भी मिल चुके हैं। इसके अलावा नोट में वैंकुवर पुलिस में उनकी सेवा का भी जिक्र किया है।

यह भी पढ़ें: कनाडा के रक्षा मंत्री पहुंचे दिल्ली, कई मुदों पर होगी चर्चा

यह भी पढ़ें: सज्जन के खालिस्तान समर्थक होने के दस्तावेजी प्रमाण : कांग्रेस

Posted By: Abhishek Pratap Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप