नई दिल्ली, प्रेट्र: भारतीय पुलिस सेवा के वरिष्ठ अधिकारियों सुजाय लाल थाउसेन और अनीश दयाल सिंह को क्रमश: सीआरपीएफ और आइटीबीपी का नया महानिदेशक नियुक्त किया गया है। मध्य प्रदेश कैडर के 1988 बैच के अधिकारी थाउसेन वर्तमान में सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के महानिदेशक के रूप में कार्यरत हैं। वे भारत-तिब्बत सीमा पुलिस का अतिरिक्त प्रभार भी संभाल रहे हैं।

कुलदीप सिंह के रिटायर होने के बाद खाली था पद

आइपीएस अधिकारी कुलदीप सिंह (1986 बैच) के सेवानिवृत्त होने के बाद शुक्रवार को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के महानिदेशक का पद रिक्त हो गया था। मणिपुर कैडर के 1988 बैच के अधिकारी अनीश दयाल सिंह वर्तमान में खुफिया ब्यूरो में विशेष निदेशक के रूप में काम कर रहे हैं। खुफिया ब्यूरो में काम करते हुए उन्होंने कई मामले सुलझाए हैं। थाउसेन की सेवानिवृत्ति अगले साल नवंबर में होनी है। सिंह दिसंबर 2024 में रिटायर होंगे। इन अधिकारियों की नियुक्ति का आदेश कार्मिक मंत्रालय द्वारा प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाली कैबिनेट की नियुक्ति समिति से मंजूरी के बाद जारी किया गया।

सीआरपीएफ के पास सुरक्षा की अहम जिम्मेदारी

सरकार ने अरबपति उद्योगपति मुकेश अंबानी की सुरक्षा को केंद्रीय खुफिया और सुरक्षा एजेंसियों द्वारा कथित खतरे की धारणा की समीक्षा के बाद 'जेड प्लस' की शीर्ष श्रेणी में अपग्रेड कर दिया है। आधिकारिक सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन 65 वर्षीय अंबानी को पहली बार 2013 में भुगतान के आधार पर सीआरपीएफ कमांडो का 'जेड' श्रेणी का कवर दिया गया था। केंद्रीय खुफिया और सुरक्षा एजेंसियों द्वारा व्यवसायी को कथित खतरे की गुंजाइश पर इनपुट प्राप्त होने के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा सिफारिश को औपचारिक रूप दिया गया था। उन्होंने कहा कि केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) को मौजूदा कवर को 'जेड प्लस' तक बढ़ाने और इसकी सुरक्षा इकाई में और कमांडो शामिल करने के लिए कहा जा सकता है।

Edited By: Amit Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट