हरिद्वार [जागरण संवाददाता]। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत पड़ोसी देशों से अच्छे रिश्ते चाहता है, लेकिन सीमाओं पर घुसपैठ बर्दाश्त नहीं की जाएगी। बीएसएफ ने पिछले छह माह में पाकिस्तान की हरकतों का मुंहतोड़ जवाब दिया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के भारत दौरे से पहले पाकिस्तान को लगाई फटकार पर गदगद केंद्रीय मंत्री ने कहा कि एक शक्तिशाली राष्ट्र के प्रमुख का बयान महत्वपूर्ण है। धर्मांतरण के मुद्दे पर कहा कि सभी राजनैतिक दल सहमत हों तो सरकार एंटी कनवर्जन बिल लाने को तैयार है।
हरिद्वार में मंसा देवी मंदिर में पूजा-अर्चना करने से पूर्व राजनाथ सिंह ने राज्य अतिथि गृह डामकोठी में शनिवार को मीडिया से बातचीत की। केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान को आतंकियों की जन्नत न बनने देने की बराक ओबामा की चेतावनी महत्वपूर्ण है।

अमेरिकी राष्ट्रपति के बयान के बाद भी पाकिस्तान को अमेरिका की ओर से दी जा रही आर्थिक मदद पर राजनाथ सिंह ने कहा कि पाकिस्तान में सब आतंकवादी नहीं हैं। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि छह माह में बीएसएफ ने पाकिस्तान को मुंह तोड़ जवाब दिया है। पाकिस्तान और चीन की सीमाओं की पूरी सुरक्षा की जा रही है। भारत पड़ोसी देशों से अच्छे संबंध चाहता है, लेकिन सीमाओं का उल्लंघन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
केंद्रीय गृह मंत्री ने उम्मीद जताई कि बराक ओबामा के दौरे से दोनों देशों के रिश्ते और मजबूत होंगे। गुटनिरपेक्ष देश होने के कारण भारत सभी देशों से अच्छे संबंध चाहता है। राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कूटनीति के कारण विश्व में भारत की स्थिति मजबूत हुई है। अंतरराष्ट्रीय निवेशकों के मन में भारत के प्रति विश्वास जगा है। निवेश के अनुकूल वातावरण बना है।

देश आर्थिक तौर पर स्वावलंबी बना रहे, इसलिए कंपनियों में विदेशी पूंजी की भागीदारी 49 फीसद होगी। राजनाथ सिंह ने कहा कि दिल्ली में किरण बेदी के नेतृत्व में भाजपा की सरकार बनेगी। बेदी को मुख्यमंत्री पद का प्रत्याशी घोषित करना पार्टी का फैसला है। अद्र्धकुंभ 2016 के लिए उत्तराखंड को केंद्र से पूरे सहयोग का भरोसा देते हुए उन्होंने कहा कि सुरक्षा के मुकम्मल इंतजाम होंगे।

पढ़ें: जल्द सार्वजनिक होंगे जनसंख्या के धार्मिक आंकड़े

Edited By: Murari sharan

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट