नागपुर, प्रेट्र। सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवाने ने शनिवार को कहा कि वर्तमान परिप्रेक्ष्य में सूचना सुरक्षा, राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए सबसे बड़ी चुनौती है जो अर्थव्यवस्था को तगड़ा झटका दे सकती है और सरकारी तंत्र को पंगु कर सकती है। महाराष्ट्र के नागपुर में एक कॉलेज में भारत का राष्ट्रीय सुरक्षा परिदृश्य : अतीत, वर्तमान और भविष्य शीर्षक पर आयोजित एक कार्यक्रम को आनलाइन संबोधित करते हुए जनरल नरवाने ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा केवल सशस्त्र सुरक्षा तक ही सीमित नहीं है बल्कि यह छह अन्य महत्वपूर्ण स्तंभों पर भी आधारित है। राष्ट्रीय सुरक्षा के समक्ष गैर-परंपरागत जोखिमों का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान परिप्रेक्ष्य में सूचना सुरक्षा राष्ट्रीय सुरक्षा के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती है।

सेना प्रमुख ने कहा कि आजकल सरकारी एवं निजी क्षेत्र का डाटा आनलाइन उपलब्ध है। ऐसी स्थिति में एक बड़ा साइबर हमला अर्थव्यवस्था को तगड़ा झटका दे सकता है साथ ही सरकारी तंत्र को नुकसान पहुंचा सकता है।संयुक्त थियेटर कमांड को उठाए जा रहे कदम : ले. जनरल मोहंती नव नियुक्त उप सेना प्रमुख लेफ्टीनेंट जनरल चंडी प्रसाद मोहंती ने गुरुवार को कहा कि एक संयुक्त थियेटर कमांड की स्थापना करने के लिए तीनों सेनाओं में तालमेल बढ़ाया जा रहा है।

दक्षिणी कमांड के प्रमुख लेफ्टीनेंट जनरल मोहंती 31 जनवरी को लेफ्टीनेंट जनरल एसके सैनी की जगह उप प्रमुख का कार्यभार संभालेंगे। सैनी उसी दिन सेवानिवृत्त हो रहे हैं। संवाददाताओं से बातचीत में लेफ्टीनेंट जनरल मोहंती ने कहा कि अभी हम लोग अलग-अलग क्षेत्र में काम कर रहे हैं लेकिन जरूरत पड़ने पर हम अपने संसाधनों का बेहतर समन्वय करते हैं

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप