इंदौर, जागरण संवाददाता। भोपाल के प्यारे मियां समेत 6 लोगों के खिलाफ इंदौर के पलासिया थाना में तीन नाबालिग लड़कियों के साथ शराब पिलाकर अप्राकृतिक कृत्य करने संबंधी तीन अलग-अलग मामले दर्ज हुए हैं। इनमें प्यारे मियां के अलावा राबिया बी, अनस, स्वीटी, गुलशन और अवेस को आरोपित बनाया गया है। ये वही केस हैं जो भोपाल में शून्य पर दर्ज हुए थे लेकिन बाद इंदौर की पलासिया थाना पुलिस को रेफर हुए।

आरोप है कि इन लोगों ने काम के बहाने बुलाकर नाबालिग को बुलाया। वहां जबरदस्ती शराब पिलाई और फिर जबरदस्ती अप्राकृतिक कृत्य करते हुए यौन शोषण किया। एफआइआर के बाद पुलिस ने लालाराम नगर उस स्थित मकान पर छापा मारा जहां लड़कियों को रखा गया था, तो वहां बार मिला। एक पीड़िता ने बताया कि वह 2019 में दीपावली के समय भोपाल से अपनी मौसी के तिलक नगर स्थित मकान में रहने आई थी। लॉकडाउन के कारण वह घर नहीं जा सकी। उसी दौरान एक सहेली का फोन आया तो उसे लॉकडाउन के कारण भोपाल न आने की बात बताई। सहेली ने कहा उसकी दोस्त स्वीटी भोपाल में रहती है जो इंदौर आ रही है। यदि तुम भोपाल आना चाहती हो तो उसके साथ आ जाओ। वह तुम्हें काम भी दिलवा देगी। बाद में स्वीटी का फोन पीड़िता के पास आया और वह दो पहिया वाहन से मुझे मौसी के घर लेने आ गई। वहां से मुझे वह लालारामराम नगर स्थित घर पर ले आई। स्वीटी ने बताया कि जिस भाभी के यहां तुम्हें काम करना है, यह उसी का घर है।

कुछ देर बाद 60-65 साल के एक अंकल भी घर पर आए और मेरे परिवार के बारे में पूछने लगे। फिर वह अंकल और स्वीटी शराब पीने लगे और मुझ पर भी शराब पीने का दबाव बनाने लगे लेकिन मैं नहीं मानी। पीड़िता ने बताया कि अगले दिन शाम को मुझे अंकल और स्वीटी ने जबरदस्ती शराब पिलाई। स्वीटी के जाने के बाद अंकल ने उसके साथ अप्राकृतिक कृत्य कर यौन शोषण किया। इसी से मिलती-जुलती कहानी अन्य लड़कियों ने भी सुनाई जिसके आधार पर लड़कियों को लाने-ले जाने और सहयोग करने वालों पर भी प्रकरण दर्ज किए हैं।

डिप्टी पुलिस सुपरिंटेंडेंट (DSP) हिमानी सोनी ने संवाददाताओं को बताया कि सबूत और पीड़ित के बयान के आधार पर, हम घटना स्थल का निरीक्षण करने आए। इंदौर के पलासिया में प्यारे मियां के खिलाफ तीन मामले दर्ज किए गए हैं।

दक्षिण भोपाल के एसपी साई कृष्ण थोटा का कहना है, "वह (प्यारे मियां) 68 वर्षीय है और करीब 7-8 साल से इस तरह की गतिविधियां कर रहा है। इसके अलावा जांच में कुछ अश्ली सामग्री भी बरामद की गई है।"

बता दें कि यह मामला तब प्रकाश में आया था जब भापोल के रतिबाद क्षेत्र में पांच लड़कियों सड़कों पर भटकती पाई गई थी। इसके बाद उनसे पूछताछ करने पर पता चला कि ये सभी एक पार्टी में शामिल होने के बाद अपने घर वापस लौट रही थी। वहीं, इनमें से एक ने दुष्कर्म का आरोप लगाया था।

Edited By: Neel Rajput

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट