नई दिल्ली, प्रेट्र। रेलवे की संपत्ति व यात्रियों पर अब आसमान से नजर रखी जाएगी। इसके लिए निंजा ड्रोन की खरीद की गई है। हाल ही में मध्य रेलवे के मुंबई डिवीजन ने दो निंजा ड्रोन खरीदे हैं, जिनसे स्टेशन परिसरों, रेलवे ट्रैक, यार्ड व वर्कशॉप की निगरानी की जाएगी।

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट किया, 'अब आसमान से होगी निगरानी। निगरानी प्रणाली को और बेहतर करने के लिए रेलवे ने निंजा ड्रोन खरीदे हैं। अत्याधुनिक तकनीक से लैस ये ड्रोन रेलवे की संपत्तियों की निगरानी के साथ-साथ यात्रियों की अतिरिक्त सुरक्षा भी सुनिश्चित करेंगे।'

मंत्रालय ने बताया कि रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने रेलवे की सुरक्षा के लिए ड्रोन के व्यापक इस्तेमाल का फैसला किया है। दक्षिण पूर्व रेलवे, मध्य रेलवे, मॉर्डन कोच फैक्ट्री रायबरेली व दक्षिण पश्चिम रेलवे स्थित आरपीएफ ने अब तक 31.87 लाख रुपये की लागत से नौ ड्रोन खरीदे हैं। 17 और ड्रोन खरीदने का प्रस्ताव है। आरपीएफ के नौ जवानों को ड्रोन के परिचालन के लिए प्रशिक्षित किया जा चुका है। छह और जवानों का प्रशिक्षण जारी है।

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस