बेंगलुरू, रायटर। India Coronavirus Vaccine Update, भारत में रूस की कोरोनो वैक्सीन का ट्रायल मार्च के महीने तक खत्म हो सकता है। रूसी वैक्सीन का भारत में ट्रायल कर रही हैदराबाद की फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डी ने कहा है कि रूसी वैक्सीन के तीसरे चरण का मानव परीक्षण मार्च तक पूरा होने की उम्मीद है। फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ईरेज़ इजरायल ने कहा कि स्पुतनिक-वी वैक्सीन के मध्य चरण के परीक्षण के लिए रजिस्ट्रेशन अगले कुछ हफ्तों में शुरू होगा और दिसंबर तक इस परीक्षण के समाप्त होने की संभावना है।

उन्होंने आगे कहा कि वैक्सीन का चरण 3 का परीक्षण मार्च के अंत में तेजी से खत्म हो सकता है, लेकिन यह अप्रैल या मई तक भी जा सकता है। भारत में कोरोना के अब तक 80 लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। भारत को कोरोना महामारी के प्रसार को रोकने के लिए एक वैक्सीन से उम्मीदें हैं।

भारत में चल रहे त्योहारी सीजन और राज्य विधानसभा चुनाव को लेकर स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा कोरोना के प्रकोप से जुड़ी चेतावनी कई बार दी जा चुकी है। कि हैदराबाद स्थित डॉ. रेड्डी फार्मा कंपनी को सितंबर में रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर करने के बाद इस महीने की शुरुआत में स्पुतनिक-वी कोराना वैक्सीन के भारत में क्लीनिकल ट्रायल को मंजूरी मिली थी।

कंपनी को उम्मीद है कि मिड-स्टेज ट्रायल के लिए 100 प्रतिभागी और लेट-स्टेज के लिए 1,500 लोग दाखिला लेंगे। डॉ. रेड्डी की रिपोर्ट के एक साल पहले के कर के बाद समेकित शुद्ध लाभ में 30.3% की गिरावट के बाद कंपनी के शेयरों ने मुंबई के एक कमजोर बाजार में 4,951 रुपये कम कर दिया।

स्पुतनिक वी (Sputnik-V)वैक्सीन की मार्केटिंग करने वाली रसियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड (RDIF) और डॉ रेड्डी लेबोरेटरीज लिमिटेड ने पिछले महीने भारत में इस वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल और वितरण को लेकर समझौते का ऐलान किया था। उसके बाद अब इसके बड़े पैमाने पर दूसरे और तीसरे चरण के ट्रायल को मंजूरी दे दी गई है। जल्द ही इस पर काम शुरू हो जाएगा। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस