नई दिल्ली, एएनआइ। पुलवामा आतंकी हमले  (Pulwama Terror Attack) के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव काफी ज्यादा बना है। पाकिस्तान की ओर से की जाने वाली हरकतों को देखते हुए भारतीय नौसेना अलर्ट है। न्यूज एजेंसी एएनआर्इ के एक ट्वीट के मुताबिक आज इंंडियन नेवी ने इस संबंध में ट्वीट कर बताया कि उत्तरी अरब सागर में लड़ाकू विमान के अलावा विमान वाहक पोत आईएनएस विक्रमादित्य और वॉर ग्रुप के दूसरे युद्धपोतों को तैनात किया गया।

भारतीय नौसेना के इस कदम से पाकिस्तानी नौसेना मकरान तट के करीब तैनात रहने को मजबूर है। इसके अलावा पाकिस्तानी नौसेना खुले समुद्री इलाके में कुछ भी करने से कतरा रही है। भारतीय नौसेना ने यह कदम पुलवामा टेरर अटैक के बाद समुद्री रास्तों से आतंकी हमलों को देखते हुए बढ़ाया है। है। 

बता दें कि इससे पहले नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने कहा था कि समुद्र के रास्ते आतंकी हमला करने की फिराक में हैं। पाकिस्तान का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि इसके लिए आतंकियों को ट्रेनिंग भी दी जा रही है।

सुनील लांबा ने कहा कि उन्हें ऐसी रिपोर्ट मिली है कि आतंकियों को अलग-अलग तरीकों से प्रशिक्षित किया जा रहा है, जिसमें समुद्र के रास्ते से भी हमला करना शामिल है। उन्होंने कहा कि भारत को अस्थिर रखने के लिए साजिश रची जा रही है। 

नौसेना प्रमुख ने कहा कि भारत पड़ोसी देश द्वारा प्रायोजित गंभीर आतंकवाद का सामना कर रहा है। उन्होंने कहा कि एशिया-प्रशांत क्षेत्र में हाल में ही कई देशों में आतंकी गतिविधियां हुई हैं। इस क्षेत्र में कुछ ही देश आतंकवाद से बच पाए हैं। लांबा ने कहा कि जिस तरह से आतंकवाद ने वैश्विक रूप ले लिया है, उससे खतरा और बढ़ गया है।

क्या अब #WaterStrike की बारी?
आतंकियों के खात्मे के लिए सबसे पहले भारत ने उरी हमले के जवाब में सर्जिकल स्ट्राइ की। इसके बाद पुलवामा आतंकी हमला हुआ तो भारत ने मुंहतोड़ जवाब देते हुए एयरस्ट्राइक की। सरकार में शामिल पार्टी के लोगों ने दावा किया कि इस एयरस्ट्राइक में कई सौ आतंकी मारे गए। वहीं, अब समु्द्री रास्ते पर मोर्चेबंदी हो रही है तो ऐसे में कई लोगों के मन में सवाल है कि क्या अब भारत #WaterStrike की तैयारी कर रहा है?
 

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप