नई दिल्ली, एजेंसी। देश में कोरोना महामारी को हराने के लिए टीकाकरण की रफ्तार को और तीव्र किया गया है। टीकाकरण के मामले में भारत, अमेरिका और चीन को पछाड़ कर शीर्ष स्‍थान पर पहुंच गया है। 92 दिनों में ही देश में 12 करोड़ 26 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगा दी गई है। इस आंकड़े को छूने में अमेरिका ने 97 दिन लगाए और चीन ने 108 दिनों में इस लक्ष्‍य को पूरा किया। उप्र, गुजरात, महाराष्ट्र और राजस्थान में एक-एक करोड़ से अधिक लोगों को वैक्‍सीन लग चुकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में हररोज लगाए जाने वाले टीकों के मामले में भी भारत शीर्ष पर बना हुआ है।

92वें दिन करीब 97 लाख टीके लगाए गए

मंत्रालय ने बताया कि देश के चार राज्यों में अब तक एक करोड़ से ज्यादा टीके लगाए जा चुके हैं। ये राज्य हैं-महाराष्ट्र (1.21 करोड़), उत्तर प्रदेश (1.07 करोड़), राजस्थान (1.06 करोड़) और गुजरात (1.03 करोड़)। मंत्रालय के मुताबिक टीकाकरण अभियान के 92वें दिन शनिवार को देश भर में 39,998 सत्रों में 26,84,956 टीके लगाए गए। इनमें से 20,22,599 लाभार्थियों को टीके की पहली और 6,62,357 को टीके की दूसरी डोज दी गईं।

रविवार को 12 करोड़ 26 लाख 22 हजार 590 टीके लगाए गए

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि रविवार सुबह सात बजे तक मिली रिपोर्ट के मुताबिक 18,15,325 सत्रों में लाभार्थियों कुल 12 करोड़ 26 लाख 22 हजार 590 टीके लगाए गए हैं। इनमें से 1.5 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन की दोनों डोज लगाई जा चुकी हैं। लाभार्थियों में 91.28 लाख स्वास्थ्यकर्मी (पहली डोज), 57.08 लाख स्वास्थ्यकर्मी (दूसरी डोज), 1.12 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स (पहली डोज) और 55.10 लाख फ्रंटलाइन वर्कर्स (दूसरी डोज) शामिल हैं। इसके अलावा 45 साल से ज्यादा उम्र के 8.59 करोड़ से अधिक लोगों को कोरोना रोधी वैक्सीन की पहली और 49.72 लाख से ज्यादा लोगों दूसरी डोज भी दी जा चुकी हैं। देश में कुल टीकाकरण की 59.5 फीसद डोज केवल आठ राज्यों में ही दी गई है

देश में कुल 60.057 वैक्‍सीनेशन सेंटर बनाए गए

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने बताया कि 12.26 करोड़ से अधिक लोगों को कोरोना वैक्‍सीन की खुराक दी जा चुकी है। शनिवार को 25.65 लाख लोगों ने टीकाकरण करवाया। मंत्रालय ने कहा कि देश में कुल 60.057 वैक्‍सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं। भारत में प्रतिदिन औसतन 38,93,288 टीके लगाए जा रहे हैं। वहीं दूसरे नंबर पर अमेरिका है, जहां वैक्सीन की रोजाना औसतन 30 करोड़ डोज दी जा रही है। मंत्रालय ने बताया कि अमेरिका में 85 दिनों में 9.2 करोड़ लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया, जबकि इतने ही दिनों में चीन में 6.14 करोड़ और ब्रिटेन में 2.13 करोड़ वैक्सीन की डोज ही लाभार्थियों को दी गई थीं।

सितंबर 2021 तक कोवैक्सीन का उत्पादन 10 गुना बढ़ाने की तैयारी

देशभर में टीकाकरण अभियान को मजबूती देने के लिए उठाए गए कदमों की जानकारी देते हुए हर्षवर्धन ने ट्वीट किया, छोटे राज्यों को हर सात दिन और बड़े राज्यों को हर चार दिन में वैक्सीन भेजी जा रही है। वैक्सीन की उपलब्धता के लिए तेजी से कदम उठाए जा रहे हैं। सितंबर 2021 तक कोवैक्सीन का उत्पादन 10 गुना बढ़ाने की तैयारी है। देशभर में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा है कि महामारी से लड़ाई में राज्यों को हर संभव मदद दी जा रही है। इसके तहत रेमडेसिविर का उत्पादन और इसकी आपूर्ति दोगुनी कर दी गई है। इसके अलावा राज्यों को आक्सीजन, वैक्सीन और चिकित्सा उपकरणों की भी आपूर्ति की जा रही है।

16 जनवरी को शुरू हुआ टीकाकरण अभियान

बता दें कि देश में कोरोना महामारी के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान 16 जनवरी को शुरू हुआ था। पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों समेत फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं को वैक्सीन लगानी शुरू की। एक मार्च से 60 साल से अधिक और 45-59 साल के गंभीर रोगों से ग्रस्त लोगों को टीका लगाया जाने लगा। इस अभियान में असल तेजी एक अप्रैल के बाद आई, जब 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को इसमें शामिल किया गया।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप