नई दिल्‍ली, एएनआइ। संयुक्त राष्ट्र की विमानन शाखा अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (International Civil Aviation Organisation, ICAO) ने पाकिस्तान से पीएम मोदी के विमान के लिए अपना एयर स्‍पेस खोलने से इनकार करने के मामले में जानकारी मांगी है। पाकिस्तान ने पीएम मोदी की सऊदी अरब की यात्रा के लिए अपना एयर स्‍पेस खोलने से एकबार फि‍र इनकार कर दिया था जिसके बाद भारत ने आधिकारिक रूप से आईसीएओ में उसकी शिकायत दर्ज कराई थी।

आधिकारिक बयान में बताया गया है कि आईसीएओ काउंसिल के अध्‍यक्ष ने भारत के पत्र पर संज्ञान लेते हुए पाकिस्‍तान से इस मामले में विस्‍तृत जानकारी तलब की है। भारत ने बीते 28 अक्‍टूबर को पीएम मोदी के विमान के लिए पाकिस्‍तान से उसके एयर स्‍पेस को खोलने की मांग की थी लेकिन पाक ने भारत का अनुरोध ठुकरा दिया था। इसकी वजह से पीएम मोदी को लेकर जा रहे एयर इंडिया के बोइंग 747 विमान को सऊदी अरब जाने के लिए अरब सागर से होकर गुजरना पड़ा।  

बयान में आईसीएओ ने कहा है कि राष्ट्रीय नेताओं को ले जाने वाले विमान 'राज्य विमान' मानें जाते हैं। इनका परिचालन उसके प्रावधानों के दायरे से बाहर है। इंटरनेशनल सिविल एविएशन कन्वेंशन (Chicago Convention) के मुताबिक, देशों के कानून नागरिक विमानों के संचालन पर लागू होते हैं। राज्‍य या सै‍न्‍य विमानों पर देशों के विमान प्रावधान लालू नहीं होते हैं। 

दरअसल, जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद-370 हटाए जाने के बाद पाकिस्‍तानी हुक्‍मरानों में भारी बौखलाहट है। भारतीय नेताओं के विमानों को अपने एयर स्‍पेस में दाखिल होने से रोकने के लिए पाकिस्‍तान की ओर से उठाए गए कदम इन्‍हीं बौखलाहटों का नतीजा माना जा रहा है। इससे पहले जब पीएम मोदी संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा के 74वें सत्र को संबोधित करने जाने वाले थे तब भी पाकिस्‍तान ने अपना एयर स्‍पेस खोलने से मना कर दिया था। यही नहीं उसने भारत के राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद की यूरोप यात्रा के लिए भी अपना एयरस्‍पेस खोलने से इनकार कर दिया था। 

Posted By: Krishna Bihari Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस