नई दिल्ली, एएनआइ। भारतीय वायु सेना (IAF) ने कहा कि सोमवार को पटियाला में एक प्रशिक्षण विमान के दुर्घटनाग्रस्‍त होने के कारणों का पता लगाने के लिए एक जांच टीम का गठन किया गया है। आईएएफ ने एक बयान में कहा, 'दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के लिए एक कोर्ट का गठन किया गया है। IAF इस मुश्किल घड़ी में ग्रुप कैप्टन जीएस चीमा के परिवार के साथ मजबूती से खड़ा है।' बता दें कि ग्रुप कैप्टन जीएस चीमा ने इस दुर्घटना में अपनी जान गंवा दी थी, जबकि स्थानीय सरकारी मोहिंद्रा कॉलेज के एक एनसीसी प्रशिक्षु विपिन कुमार यादव इसमें घायल हो गए थे।

IAF ने कहा, 'एक दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना में, एनसीसी माइक्रोलाइट विमान सोमवार को पटियाला में एक प्रशिक्षण मिशन के दौरान दुर्घटनाग्रस्त हो गया।' बता दें कि सोमवार दोपहर यह सिंगल इंजन वाला दो सीटर विमान सिविल एविएशन क्लब में गिर गया था। इसका इस्‍तेमाल एनसीसी थर्ड एयर स्क्वायर डन बटालियन के कैडेट्स को प्रशिक्षण के लिए किया जाता था।

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने भी सोमवार को पटियाला में सेना छावनी क्षेत्र में विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने पर गहरा दुख व्यक्त किया, जिसमें एक पायलट की भी मौत हो गई। 

बताया गया कि यह माइक्रोलाइट एयरक्राफ्ट तकनीकी खराबी के कारण टेक ऑफ करने से पहले ही एविएशन क्लब की तारों में उलझ गया। हादसे में पायलट विंग कमांडर कैप्टन गुरप्रीत सिंह चीमा (50) की मौत हो गई। पटियाला के सरकारी महिंदरा कॉलेज का एनसीसी कैडेट विपिन कुमार यादव घायल हो गया। उसे मिलिट्री अस्पताल में भर्ती कराया गया।

जानकारी के अनुसार, सोमवार दोपहर एयरक्राफ्ट के जरिये पटियाला में एनसीसी थर्ड एयर स्क्वार्डन बटालियन के कैडेट्स को प्रशिक्षण दिया जा रहा था। पटियाला में एनसीसी थर्ड एयर स्क्वायर डन बटालियन के कैडेट्स को इस माइक्रोलाइट विमान से उड़ान के बारे में बताया जाता था। ग्रुप कमांडर जीएस चीमा इस दौरान महिंद्रा कॉलेज के विद्यार्थी कैडेट विपिन कुमार यादव को विमान उड़ाना सिखा रहे थे।

Posted By: Nitin Arora

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!