Move to Jagran APP

मैं पीएम मोदी को धन्यवाद देना चाहता हूं...राजाजी के परपोते केसवन ने संसद भवन में सेंगोल की स्थापना पर बोले

पहले भारतीय गवर्नर-जनरल सी राजगोपालाचारी के प्रपौत्र सीआर केसवन ने नए संसद भवन में ऐतिहासिक सेंगोलस्थापित करने के फैसले पर प्रधानमंत्री मोदी की सराहना की है।उन्होंने कहा कि भारत की विरासत की गहरी समझ रखने वाले व्यक्ति ही इस तरह की महत्वपूर्ण घटना को इतिहास में उचित स्थान देते हैं।

By AgencyEdited By: Babli KumariPublished: Thu, 25 May 2023 01:50 PM (IST)Updated: Thu, 25 May 2023 01:50 PM (IST)
भाजपा नेता सी आर केसवन, जो पहले भारतीय गवर्नर-जनरल सी राजगोपालाचारी के प्रपौत्र हैं (फोटो/एएनआई)

चेन्नई, एजेंसी। पहले भारतीय गवर्नर-जनरल सी राजगोपालाचारी के परपोते सीआर केसवन ने नए संसद भवन में ऐतिहासिक 'सेंगोल' स्थापित करने के फैसले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना करते हुए कहा है कि केवल भारत की सभ्यतागत विरासत की गहरी समझ रखने वाले व्यक्ति और परंपराएं यह सुनिश्चित कर सकती हैं कि इस तरह की महत्वपूर्ण घटना को इतिहास में उचित स्थान दिया जाए।

पीएम मोदी 28 मई को नए संसद भवन के उद्घाटन के मौके पर ऐतिहासिक और पवित्र 'सेंगोल' की स्थापना करेंगे, जो अंग्रेजों से भारत में सत्ता हस्तांतरण का प्रतीक है।

मैं पीएम मोदी को धन्यवाद देना चाहता हूं- केसवन

भाजपा नेता केसवन ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया कि "हम में से बहुत से लोग पवित्र राजदंड के साथ सत्ता के हस्तांतरण में इस महत्वपूर्ण घटना के बारे में नहीं जानते थे, जो कि 'सेंगोल' है। एक भारतीय के रूप में, मैं पीएम मोदी को धन्यवाद देना चाहता हूं। केवल एक व्यक्ति जिसे भारतीय की बहुत गहरी समझ है। सभ्यता की विरासत, भारतीय संस्कृति और हमारे मूल्यों और परंपराओं के लिए गहरा सम्मान सुनिश्चित कर सकता है कि इस तरह की एक महत्वपूर्ण घटना को गुमनामी से वापस लाया जाए और इतिहास में इसका उचित स्थान दिया जाए।" 

इस सेंगोल को भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने 14 अगस्त, 1947 की रात अपने आवास पर कई नेताओं की उपस्थिति में स्वीकार किया था। 'सेंगोल' को अंग्रेजों से भारत में सत्ता के हस्तांतरण के प्रतीक के रूप में सौंप दिया गया था।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.