नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स (जीओएम) के साथ बैठक की। स्वास्थ्य की यह बैठक में देश में कोरोना की स्थिति को लेकर आयोजित की गई थी। 

इस दौरान मंत्री से देश भर में कोरोनोवायरस के प्रकोप और इसके प्रसार पर अंकुश लगाने के उपायों पर चर्चा की। बता दें कि केंद्र सरकार कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए हर संभव कदम उठा रही है। 

बता दें कि भारत में कोरोना वायरस के एक्टिव मामलों और इलाज के बाद ठीक होने वाले मरीजों की संख्या लगभग बराबर हो गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना से 4,785 लोग ठीक हुए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार देश में कोरोना के 1,29,917 एक्टिव मामले हैं, जबकि 1,29,215 लोग ठीक होकर अस्पताल से अपने घर वापस जा चुके हैं।

30 जून तक अनलॉक फेज-1

कोरोना वायरस संक्रमण के कारण पूरे देश में लागू लॉकडाउन के हटने का सिलसिला 1 जून से शुरू हो गया है। जून महीने की शुरूआत से देश में लॉकडाउन नहीं अनलॉक के दिशानिर्देश प्रभावी हो गए हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 30 जून तक अनलॉक-1 के लिए जारी दिशानिर्देश में गतिविधियों को आगे बढ़ाने की चाबी राज्यों के हाथ में दे दी थी। कर्नाटक, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और तेलंगाना समेत कई राज्यों ने गृह मंत्रालय के दिशा- निर्देशों के अनुरूप दूसरे राज्यों में आवाजाही पर लगी पाबंदी को हटा दिया है।

मॉल, होटल-रेस्टोरेंट और धर्मस्थल भी खोले गए

सरकार ने पहले चरण में आठ जून से मॉल, होटल-रेस्टोरेंट और धर्मस्थलों को खोलने की भी इजाजत दे दी है। वहीं दूसरे चरण में स्कूल, कॉलेज व अन्य शैक्षणिक संस्थानों को खोलने का फैसला लिया गया है। हालांकि कई अभिभावकों ने अभी स्कूल ना खोलने की मांग को लेकर एक याचिका पर भी हस्ताक्षर किए हैं। राज्यों एवं अभिभावकों से विमर्श के बाद जुलाई में इस संबंध में फैसला लिया जाएगा। इसके अलावास जिम, बार, सिनेमा हॉल, मेट्रो पर तीसरे चरण में यानी सबसे आखिर में फैसला लिया जाएगा।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस