नई दिल्ली। नई दिल्ली पूर्व एयर होस्टेस गीतिका शर्मा की मां अनुराधा शर्मा ने फांसी लगाने से पहले जहरीला पदार्थ खाया था। अनुराधा का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों ने प्रारंभिक रिपोर्ट में मौत की वजह दम घुटना बताया है, लेकिन उससे पूर्व जहरीला पदार्थ खाए जाने का भी अंदेशा जताया है। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए उनका बिसरा जांच के लिए भेजा गया है। इस खुलासे से सवाल उठता है कि फांसी लगाने से पहले अनुराधा ने जहरीला पदार्थ क्यों खाया? कहीं इसके पीछे कोई साजिश तो नहीं? उत्तर पश्चिम जिला पुलिस उपायुक्त पी करुणाकरण ने जानकारी न होने की बात कर कुछ भी बोलने से इन्कार कर दिया।

सूत्रों के अनुसार दफ्तर से साढ़े चार बजे घर पहुंची अनुराधा ने जहर घर आने के बाद खाया या रास्ते में? इसकी तहकीकात की जा रही है क्योंकि पुलिस को मौके पर किसी तरह का जहरीला पदार्थ नहीं मिला था। वहीं, जिस तरह सुसाइड नोट में मीडिया से दूर रहने की बात लिखी गई है वह भी गले नहीं उतर पा रही है। गीतिका शर्मा मामले की जांच से जुड़े एक अधिकारी की मानें तो परिवार हरियाणा के पूर्व गृहमंत्री गोपाल कांडा व उसकी सहयोगी अरुणा चढ्डा को सलाखों के पीछे पहुंचाने में मीडिया की भूमिका काफी महत्वपूर्ण मानता था। पुलिस टीम परिवार के सदस्यों के मोबाइल की कॉल डिटेल भी खंगाल रही है। जांच की जा रही है कि कहीं परिवार के ऊपर किसी तरह का दबाव तो नहीं था। यह भी पता लगाया जा रहा है कि गोपाल कांडा के किसी करीबी द्वारा गीतिका के परिजनों को किसी प्रकार की कोई धमकी तो नहीं दी गई्र? कहीं अनुराधा को उनके पति दिनेश या बेटे अंकित को लेकर कोई चिंता तो नहीं खाए जा रही थी? पुलिस सूत्रों की मानें तो घटना वाले दिन किन किन लोगों ने अनुराधा या उनके पति व बेटे से संपर्क किया था इसका भी पता लगाया जा रहा है।

ज्ञात हो शुक्रवार शाम शालीमार स्थित अपने घर लौटने के बाद अनुराधा ने उसी कमरे में पंखे में चुन्नी से फांसी लगाकर आत्महत्या ली थी जहां छह माह पूर्व गीतिका ने फांसी लगाई थी।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप