नईदुनिया, जयपुर। राजस्थान के झालावाड़ जिले के लड़ानियां गांव में शनिवार को उस वक्त मौजूद सभी की आंखें नम हो गई, जब कश्मीर में शहीद सेना के जवान मुकुट बिहारी मीणा की पांच माह की बेटी पिता के ताबूत पर चढ़कर लेट गई। जिला कलेक्टर जितेंद्र सोनी ने भावुक होकर फेसबुक पर इस हृदय विदारक घटना को साझा करते हुए इस मासूम के नाम भावुक पत्र लिखा है।

झालावाड़ कलेक्टर ने लिखा-पांच माह की मासूम को भावुक पत्र

मीणा का सैन्य सम्मान के साथ शनिवार को अंतिम संस्कार किया गया। उनके पिता जगन्नाथ मीणा और पांच माह की पोती ने उन्हें मुखाग्नि दी। इससे पहले शहीद का पार्थिव शरीर जब घर लाया गया तो मासूम ताबूत पर चढ़ गई। कुछ देर बाद वह लेट भी गई। यह भावुक नजारा देख माहौल और गमगीन हो गया। इसके बाद ताबूत से शव निकाल कर उसे तिरंगे में लपेटा गया। गौरतलब है कि सेना के जवान मुकुट बिहारी मीणा 11 जुलाई को कुपवाड़ा में शहीद हो गए थे।

कलेक्टर ने फेसबुक पर लिखा..

'तुम ताबूत पर बैठ गई और बिना रोए उस पर सो गई। पिता के अंतिम दर्शन से कुछ पल पहले तुम्हारा यह व्यवहार बहुत भावुक करने वाले था। मैं स्वयं व सारे सैन्य अधिकारी तुम्हें ऐसा करते देख रहे थे। हम सभी लोग तुम्हारे बारे में अपने-अपने तरीके से सोच रहे थे, लेकिन मैं जानता हूं कि सभी के विचारों के केंद्र में तुम और तुम्हारे पिता ही थे। न सिर्फ इस क्षेत्र की जनता बल्कि पूरे देश के प्रत्येक जिम्मेदार व संवेदनशील नागरिक का आशीर्वाद तुम्हारे साथ है। अच्छे से बड़ी हो जाओ और अपने पिता की गौरवशाली शहादत को अपना अभिमान बनाओ।'

 

Posted By: Bhupendra Singh