उदयपुर, जागरण संवाददाता। राजस्थान के उदयपुर जिले के गोगुन्दा क्षेत्र में बहने वाली मानसूनी नदी में डूबने से मंगलवार को दो चचेरे भाइयों की मौत हो गई। जबकि सलूम्बर क्षेत्र की बनोड़ा नदी को पार करते समय एक किसान बह गया। एसडीआरएफ और पुलिस की टीम उसकी तलाश में जुटी है लेकिन अभी तक उसका पता नहीं चल पाया। मिली जानकारी के अनुसार उदयपुर जिले में दो दिन से बारिश का दौर जारी है। गोगुंदा क्षेत्र में कठार नदी में समीपवर्ती क्षेत्र में रहने वाले तेरह वर्षीय जयवीर पुत्र खुमान सिंह और उसके चचेरे भाई 12 वर्षीय दक्ष पुत्र हिम्मत सिंह की मौत हो गई। नदी के पास घूमते समय दक्ष फिसल गया था और उसे बचाने के लिए जयवीर भी नदी में कूद गया।

तेज प्रवाह के दौरान दोनों डूब गए और उनकी मौत हो गई। वहां मौजूद महिलाओं के शोर मचाने पर आसपास मौजूद गांव के लोगों ने उनको बचाने की कोशिश की लेकिन वह सफल नहीं हो पाए। सूचना पर गोगुंदा थाना पुलिस पहुंची ओर पोस्टमार्टम के बाद उनके शव परिजनों के हवाले कर दिए गए।

उधर, सलूम्बर क्षेत्र में बनोड़ा नदी को पार करते समय एक किसान बह गया। तेज बारिश के चलते मानसूनी नदी का प्रवाह भी तेज था और लोगों का कहना था कि किसान नदी पार कर अपने खेत पर जाना चाह रहा था। सूचना पर पहुंची एसडीआरएफ तथा पुलिस की टीम उसकी तलाश में जुटी है। सात घंटे से चल रहे रेस्क्यू आपरेशन के बाद भी उसका पता नहीं चल पाया।

बांसवाड़ा के भांगड़ा में सर्वाधिक बारिश, हिम्मतनगर का रास्ता बंद

मेवाड़ और वागड़ में दो दिन से तेज बारिश का दौर जारी है। सर्वाधिक बारिश बांसवाड़ा जिले के भांगड़ा गांव में हुई, जहां पिछले 24 घंटे में 180 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। तेज बारिश के चलते गुजरात के हिम्मतनगर जाने वाला हाईवे भी बंद हो गया। मार्ग में चार फीट से अधिक पानी भरने से वाहनोें का आवागमन रोक दिया गया।

Edited By: Shashank Shekhar Mishra