मुंबई। प्रख्यात फिल्मकार अनिल गांगुली का शुक्रवार को बीमारी के चलते अपने घर पर निधन हो गया। वह 82 साल के थे।

सूत्रों ने बताया कि गांगुली ने अंतिम सांस तड़के ली और उनका अंतिम संस्कार दोपहर करीब एक बजे कर दिया गया। गांगुली एक प्रख्यात निर्देशक और पटकथा लेखक थे। उन्होंने ¨हदी सिनेमा में सत्तर से नब्बे के दशक में काम किया। उन्हें जया बच्चन अभिनीत 'कोरा कागज' (1974) और 'तपस्या' (1975) के लिए जाना जाता है। इन फिल्मों ने राष्ट्रीय पुरस्कार जीते थे।

उनकी दूसरी प्रमुख फिल्मों में 'साहेब', 'तृष्णा', 'खानदान', 'हमकदम', 'प्यार के काबिल', 'बलिदान' और 'दुश्मन देवता' हैं। उन्होंने अनिल कपूर और अमृता सिंह को लेकर 'साहेब' (1985) बनाई थी। इसके बाद उन्होंने मिथुन चक्रवर्ती के साथ कई एक्शन फिल्में बनाई। उनकी बेटी रुपाली गांगुली टेलीविजन और थियेटर अभिनेत्री हैं और उनका बेटा विजय गांगुली निर्देशक और कोरियोग्राफर हैं।

Posted By: Gunateet Ojha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप