नई दिल्ली [जागरण न्‍यूज नेटवर्क]। कोरोना महामारी के बीच देश के कई हिस्सों में बुखार ने पांव पसार लिए हैं। उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हरियाणा और दिल्ली-एनसीआर के कुछ क्षेत्रों में बुखार के प्रकोप के बीच डेंगू के मामले भी सामने आए हैं। उत्तर प्रदेश में ब्रज क्षेत्र अधिक प्रभावित दिख रहा है। फीरोजाबाद जिले में बीते दिनों तेजी से मामले बढ़ने के बाद केंद्रीय टीम ने भी दौरा किया था। इसमें डेंगू के अलावा स्क्रब फाइटस बीमारी की बात भी सामने आई थी। अन्य राज्यों में भी बुखार के मामले सामने आए हैं जिसके बाद राज्यों ने स्वास्थ्य सेवाएं चुस्त की हैं। आइए देखें किन राज्यों में बुखार और डेंगू का असर अधिक है:

उत्‍तर प्रदेश : ब्रज क्षेत्र में जानलेवा बुखार का प्रकोप

  • ब्रज में पिछले 24 घंटे में पांच जिलों में 14 लोगों ने दम तोड़ दिया। फीरोजाबाद में सात लोगों की मृत्यु हुई है। कासगंज, मैनपुरी व हाथरस में दो-दो और मथुरा में एक रोगी की मौत हुई है।
  • फीरोजाबाद में 11 अगस्त को पहली मौत हुई यहां अब तक 141 मरीजों की मौत हो चुकी है, हालांकि स्वास्थ्य विभाग ने शासन को 61 मौतों की रिपोर्ट भेजी है।
  • बुधवार को लखनऊ से संचारी रोग निदेशक डा. गिरिजा शंकर वाजपेयी सहित तीन सदस्यीय टीम फीरोजाबाद पहुंची है।
  • ब्रज में डेंगू का डी-2 स्ट्रेन जानलेवा बना हुआ है। स्क्रब टाइफस का भी संक्रमण मिला है।
  • आगरा में बुधवार को 14 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई। मैनपुरी में 15 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है।
  • कासगंज में अब तक 27 लोग दम तोड़ चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग तीन की मौत की बात कह रहा है।
  • मथुरा में गैरसरकारी आंकड़ों में 22 लोगों की डेंगू से मौत की बात सामने आई है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक 15 लोगों की मौत डेंगू से हुई हैं।
  • इसके अलावा अलीगढ़ और एटा में भी डेंगू व बुखार का प्रकोप दिख रहा है।

मध्य प्रदेश: इस माह मिले डेंगू के 1,500 मरीज

  • राज्य में डेंगू मरीजों की संख्या इस साल अब तक करीब 2,900 हो गई है। इनमें 1500 मरीज अकेले सितंबर माह में आए हैं।
  • मंदसौर जिले में सबसे ज्यादा करीब 800 मरीज एक जनवरी से अब तक मिल चुके हैं।
  • पांच अलग-अलग जिलों में पांच मरीजों की मौत डेंगू से हुई है। डेंगू से निपटने के लिए प्रदेश सरकार ने 15 सितंबर से डेंगू से जंग, जनता के संग अभियान शुरू किया है।

हरियाणा: पलवल में बुखार का सर्वाधिक असर

  • पलवल जिले में बुखार से मरने वालों की संख्या 16 हो गई है। हथीन उपमंडल के गांव चिल्ली में बुखार से दस बच्चों की मौत के बाद होडल उपमंडल के गांव सौंदहट में भी दो बच्चों की मौत हुई।
  • कई बच्चे वायरल बुखार से पीडि़त हैं। ग्रामीणों का कहना है कि उनके बच्चों में डेंगू जैसे लक्षण हैं।
  • बीते 20 दिन में जिले में अब तक 12 बच्चों समेत 16 लोगों की मौत हो चुकी है।
  • जिला स्वास्थ्य विभाग ने चिल्ली गांव में पांच बेड का अस्थायी अस्पताल शुरू किया है। 24 घंटे दो चिकित्सक व अन्य स्वास्थ्यकर्मी मौजूद रहेंगे।
  • सिविल सर्जन डा. ब्रह्मदीप का कहना है कि चिल्ली गांव में सभी की मौत अलग-अलग बीमारियों से हुई है। किसी को डेंगू व बुखार नहीं था। गांव सौंदहट में बच्चों की मौत की जानकारी नहीं है।

दिल्ली : एक सप्ताह में डेंगू के 34 मरीज मिले

  • राष्ट्रीय राजधानी में बीते एक सप्ताह में डेंगू के 34 मरीज सामने आए हैं। कुल मरीजों का आंकड़ा 158 हो गया है।
  • निगम की रिपोर्ट के अनुसार, डेंगू के सर्वाधिक मरीज उत्तरी निगम क्षेत्र में मिले हैं।
  • दक्षिणी निगम क्षेत्र में आठ तो पूर्वी निगम क्षेत्र से छह मरीजों की पुष्टि हुई है। 11 मरीजों के पते की पुष्टि नहीं हुई है।
  • राजधानी में इस साल डेंगू से अब तक किसी की मौत नहीं हुई है।

मुंबई में इस साल डेंगू के ज्‍यादा केस आए

समाचार एजेंसी पीटीआइ के मुताबिक मुंबई में जनवरी 2021 से लेकर अभी तक डेंगू के 305 मामले सामने आ चुके हैं। 85 मामले इस महीने सामने आए हैं। मुंबई में इस साल डेंगू के मामलों में बढ़ोतरी हुई है। पिछले साल मुंबई में डेंगू के 129 मामले सामने आए थे। वहीं मध्य प्रदेश में इस साल अब तक डेंगू के 2,400 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से मौजूदा वक्‍त में 95 मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।