नई दिल्ली (जेएनएन)। हैदराबाद में आज से आठवां वैश्विक उद्यमिता शिखर सम्मेलन शुरू होने जा रहा है। तीन दिवसीय इस सम्मेलन की खास मेहमान होंगी इवांका ट्रंप जो अमेरिकी प्रतिनिधि मंडल का नेतृत्व करेंगी। हैदराबाद के इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और इवांका इसका उद्घाटन करेंगे। इस वर्ष सम्मेलन महिला उद्यमियों पर केंद्रित है।

2010 में हुई शुरुआत
आठ वर्ष पहले तात्कालिक अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने नवोन्मेष और उद्यमिता को अमेरिकी एजेंडे में शामिल किया। 2010 में उन्होंने व्हाइट हाउस में पहला वैश्विक उद्यमिता सम्मेलन आयोजित किया। तब से आज तक यह सम्मेलन हर साल आयोजित किया जा रहा है।

भारत करेगा मेजबानी
वाशिंगटन से शुरू होकर इस्तांबुल, दुबई, मराकश, नैरोबी, कुआलालंपुर, सिलिकॉन वैली से होते हुए यह सम्मेलन पहली बार दक्षिण एशिया में आयोजित किया जा रहा है। भारत में इसका आयोजन नीति आयोग और अमेरिकी सरकार के संयुक्त तत्वावधान में हो रहा है।

दुनियाभर से शामिल होंगे प्रतिनिधि
इस सम्मेलन में 150 देशों के 1500 से अधिक प्रतिनिधि शामिल होंगे। इनमें 300 निवेशक होंगे। भारत से आइसीआइसीआइ बैंक की मैनेजिंग डायरेक्टर चंदा कोचर, उद्यमी व शिक्षाविद सोनम वांगचुक, टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा, बैडमिंटन खिलाड़ी व कोच पुलेला गोपीचंद, फैशन डिजायनर अनीता डोंगरे, शेफ विकास खन्ना, गूगल के साउथ ईस्ट एशिया व भारत के उपाध्यक्ष राजन आनंदन सहित कई प्रमुख हस्तियां शामिल होंगी।

यहां होगा सम्मेलन
हैदराबाद के इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में आज से 30 नवंबर तक सम्मेलन का आयोजन होगा। इस सेंटर का मुख्य हॉल 1.6 एकड़ में फैला है, जिसमें छह हजार प्रतिनिधि बैठ सकते हैं।

महिलाओं के हक में बोलेंगी इवांका
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी व शीर्ष सलाहकार इवांका ट्रंप ने राष्ट्रपति चळ्नावों में उनकी जीत सुनिश्चित करने में बड़ी भूमिका निभाई। वह महिलाओं और बच्चों के हित में काम करती हैं। अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप के मुकाबले कहीं अधिक चर्चाओं में रहने के कारण विदेशी मीडिया उन्हें अमेरिका की अघोषित प्रथम महिला करार कर चुका है। यह इवांका की पहली भारत यात्रा है। अमेरिका में उनके कद को देखते हुए माना जा सकता है कि इस सम्मेलन में उनके शरीक होने के बाद अमेरिका और भारत महिला उद्यमिता के क्षेत्र में नए समझौते कर सकते हैं।

महिलाओं पर केंद्रित
-इस वर्ष सम्मेलन की थीम है- ‘वीमेन फस्र्ट, प्रॉस्पेरिटी फॉर आल’ यानी महिलाओं को प्रमुखता, सबके लिए खुशहाली।
-127 देशों से महिला प्रतिनिधि भाग ले रही हैं। अफगानिस्तान, इजरायल, सऊदी अरब समेत दस देशों से सिर्फ महिला प्रतिनिधि ही आएंगी।
-आठ वर्षों में पहली बार सम्मेलन में महिलाएं पुरुषों की तुलना में अधिक संख्या में होंगी।
-सभी उद्यमियों, निवेशकों और अन्य व्यापारिक प्रतिनिधियों में से 52.5 फीसद महिलाएं होंगी।

यह भी पढ़ें : हैदराबाद पहुंची डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका, GES में लेंगी हिस्सा

Posted By: Srishti Verma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस