जयपुर, एजेंसी। रविवार सुबह राजस्थान के सीकर, अलवर, भरतपुर और आसपास के शहरों में भूकंप के झटके महसूस किए गए। लोग दहशत में घरों से बाहर आ गए। जानकारी के मुताबिक, भूकंप की तीव्रता 5 मापी गई है, जिसका केंद्र पाकिस्तान में सिबी से 46 किमी दूर था। फिलहाल जान-माल के कोई नुकसान की खबर नहींं है। 

भूकंप का असर भारत और पाकिस्तान के अलावा ईरान और अफगानिस्तान तक रहा। राजस्थान में सुबह करीब 5.30 बजे सात सेकंड तक झटके महसूस किए गए। कुछ घरों में दरारें आई हैं।

बता दें कि शनिवार को निकोबार महाद्वीप में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। रिक्टर स्केल पर इस भूकंप की तीव्रता 4.8 मापी गई थी। इससे पहले बीती 20 फरवरी को देश के कई हिस्सों में भूकंप का कंपन महसूस किया गया। दिल्ली के साथ ही महाराष्ट्र में भी हल्की तीव्रता के झटके आए थे। महाराष्ट्र के पालघर में सुबह 10 बजकर 14 मिनिट में पहला झटका महसूस किया गया था, जिसकी तीव्रता 2.9 थी।

क्यों आते हैं भूकंप?
पृथ्वी बारह टैक्टोनिक प्लेटों पर स्थित है, जिसके नीचे तरल पदार्थ लावा के रूप में है। ये प्लेटें लावे पर तैर रही होती हैं। इनके टकराने से ही भूकंप आते हैं। टैक्‍टोनिक प्लेट्स अपनी जगह से हिलती रहती हैं और खिसकती भी हैं। हर साल ये प्लेट्स करीब 4 से 5 मिमी तक अपने स्थान से खिसक जाती हैं। इस क्रम में कभी-कभी ये प्लेट्स एक-दूसरे से टकरा जाती हैं। जिनकी वजह से भूकंप आते हैं।

भूकंप आए तो क्या करें?
भूकंप का एहसास होते ही घबराएं नहीं। घर से बाहर किसी खाली जगह पर खड़े हो जाना चाहिए। बच्चों व बुजुर्गों को पहले घर से बाहर निकालें, किनारे में खड़े रहें। घर में भारी सामान सिर के ऊपर नहीं होना चाहिए।

Posted By: Dhyanendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप