इटानगर, जेएनएन। तिब्बती धर्मगुरू दलाई लामा आज से अरूणाचल प्रदेश के दौरे पर हैं। वे 4 अप्रैल से 13 अप्रैल तक अरूणाचल में रहेंगे। इस दारौन वह कई जगहों पर जाएंगे। दलाई लामा की यह यात्रा पूरी तरह धार्मिक है।

आज वह लुमला में एक नए तारा मंदिर में अभिषेक करेंगे और इसके बाद राजधानी ईटानगर सहित दो अन्य जगहों पर शिक्षा और उपदेश देंगे। दलाई लामा यहां 5-7 अप्रैल के बीच तवांग में रहने वाले हैं। ल्हासा के बाद तवांग मठ भारत के लिए काफी अहमियत रखता है।

दलाई लामा यहां नए मंदिरों की स्थापना करने वाले हैं और दीक्षा समारोह भी आयोजित करने वाले हैं। दलाई लामा के अरूणाचल दौरे पर चीन ने नाराजगी जाहिर की है। उसने धमकी दी थी कि धमकी दी कि अगर भारत ने दलाई लामा को अरुणाचल प्रदेश की यात्रा करने की इजाजत दी, तो द्विपक्षीय रिश्ते खराब हो सकते हैं।

चीन ने यह भी कहा कि भारत तिब्बत के मुद्दे पर अपने राजनीतिक संकल्पों का पालन करे। वैसे तो इन सभी इलाकों पर चीन अपना दावा जताता रहा है, लेकिन उसकी नाराजगी की मुख्य वजह तवांग मठ में दलाई लामा के कार्यक्रम को लेकर है।
यह भी पढ़ें: दलाई लामा के स्‍वागत को अरुणाचल तैयार, बेसब्री से हो रहा इंतजार

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस