नई दिल्‍ली, पीटीआइ। दाऊद इब्राहिम के भतीजे रिजवान कासकर को मुंबई पुलिस ने मुंबई एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया है। रिजवान देश छोड़कर भागने की फिराक में था, लेकिन पुलिस ने समय रहते उसे हिरासत में ले लिया। पुलिस ने बताया कि रिजवान कासकर को फिरौती मांगने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। रिजवान से एंटी-एक्सटॉर्शन सेल की पूछताछ जारी है। एक अन्य आरोपी अहमद नाम का शख्स है, जिसे पूछताछ के लिए लाया गया है। बता दें कि रिजवान दाऊद के भाई इकबाल कासकर का बेटा है।

ऐसा कहा जाता है कि दाऊद पाकिस्‍तान में बैठकर अपना गैंग ऑपरेट करता है। इसलिए ऐसा माना जा रहा है कि रिजवान कासकर भी पाकिस्‍तान भाग सकता था। बता दें कि दाऊद इब्राहिम और छोटा शकील के खिलाफ जांच करते हुए मुंबई पुलिस ने इससे पहले अफरोज वडारिया उर्फ अहमद रजा को 17 जुलाई को गिरफ्तार किया था।

मुंबई पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि वडारिया के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर नोटिस जारी किया गया था, जिसके आधार पर उसे मंगलवार को गिरफ्तार किया गया। वह छोटा शकील का करीबी है और उसके लिए हवाला लेनदेन का काम करता था। अधिकारी ने कहा कि जैसे ही वह मुंबई पहुंचा, उसे हवाई अड्डे पर ही गिरफ्तार कर मुंबई पुलिस को सौंप दिया गया। कासकर के साथ ही दो अन्‍य लोगों को भी गिरफ्तार किया गया है।

वडारिया के खिलाफ मुंबई के एक उद्योगपति ने साल 2017 में शिकायत दर्ज कराई थी। उद्योगपति ने आरोप लगाया था कि वडारिया ने उससे फिरौती की मांग की है। वडारिया इससे पहले मुंबई ही नहीं गुजरात के कई उद्योपतियों से भी फिरौती की मांग कर चुका था। पुलिस ने जब वडारियों को गिरफ्तार किया, तब उसने रिजवान कासकर और कुछ अन्‍य लोगों को नाम बताया।

बताया जा रहा है कि रिजवान कासकर को इस बात की भनक लग गई थी कि वडारिया ने उसके नाम का खुलासा पुलिस के सामने कर दिया है। ऐसे में कासकर ने देश छोड़कर भागने की योजना बना ली थी। कासकर को पता था कि पुलिस जल्‍द ही उस तक पहुंच जाएगी और ऐसा हुआ भी। रिजवान कासकर को पुलिस ने मुंबई एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया, जब वह देश छोड़कर भागने की फिराक में था।

Posted By: Tilak Raj