रायपुर, राज्य ब्यूरो। छत्तीसगढ़ में करीब 62 दिन बाद कोरोना संक्रमण (पाजिटिविटी) की दर पांच फीसद से नीचे आ गई है। रिकवरी (स्वस्थ्य होने वालों) दर 94 फीसद तक पहुंच गई है। वहीं, सक्रिय मरीजों की संख्या 45 हजार से कम हो गई है। यह आंकड़े राज्य में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के पूरी तरह कमजोर पड़ने के संकेत हैं। यही वजह है कि राज्य के ज्यादातर जिलों में सरकार ने ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू करने की अनुमति दे दी है। साथ ही लोगों से कोरोना वायरस से बचाव के लिए जारी गाइडलाइन के पालन की अपील भी की जा रही है।

ज्यादातर जिलों में सैकड़ा और दहाई में आया आंकड़ा

राज्य के 28 में से 13 जिलों में दैनिक नए केसों की संख्या सैकड़ा और बाकी 15 जिलों में दहाई तक आंकड़े पहुंच रहे हैं। पखवाड़ेभर पहले तक आधा दर्जन से ज्यादा जिलों में यह संख्या हजार और बाकी में सैकड़ा थी। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार सरगुजा और बिलासपुर संभाग के कुछेक जिलों को छोड़कर बाकी में स्थिति लगभग नियंत्रित हो गई है।

32 फीसद तक पहुंच गई थी संक्रमण की दर

कोरोना की दूसरी लहर ने राज्य में अप्रैल में जमकर कहर बरपाया। अप्रैल के दूसरे और तीसरे सप्ताह में संक्रमण की दर लगातार 30 फीसद के आसपास बनी हुई थी। 21 अप्रैल को संक्रमण दर सर्वाधिक 32 फीसद रही। लाकडान के बाद मई के पहले सप्ताह से इसमें लगातार कमी आ रही है।

58 दिन में साढ़े आठ हजार से ज्यादा मौतें

कोरोना की वजह से राज्य में अब तक 12,915 लोगों की मौत हुई है। इनमें से 8,745 मौतें अकेले पिछले 58 दिनों यानी एक अप्रैल से अब तक हुई है। इसमें अप्रैल में 4,411 और 28 मई तक 4,334 शामिल हैं।

सरगुजा जिले में सबसे ज्यादा मामले

इस वक्त राज्य में प्रतिदिन सबसे ज्यादा मामले सरगुजा जिले में आ रहे हैं। शुक्रवार को वहां 260 नए मरीज मिले, जबकि गुरुवार और बुधवार को यह संख्या 266 व 240 थी।

रायगढ़ जिले में सबसे ज्यादा सक्रिय मरीज

प्रदेश में सबसे ज्यादा 3,723 सक्रिय मरीज रायगढ़ जिले में हैं। इसके बाद कोरिया में 3,637, सूरजपुर में 3,608, सरगुजा 3379, जांजगीर-चांपा 2977 व बलरामपुर में 2820 सक्रिय मरीज हैं।

सभी के सहयोग व परिश्रम से छत्तीसगढ़ में कोरोना की दूसरी लहर को नियंत्रित

सभी के सहयोग व परिश्रम से छत्तीसगढ़ में कोरोना की दूसरी लहर को नियंत्रित करने में काफी हद तक सफलता मिली है। संक्रमण की दर वर्तमान में पांच फीसद के नीचे आ गई है। जनता की सहूलियत के लिए लाॅकडाउन में कुछ छूट दी गई है, लेकिन सभी लोग कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर का पालन करें। मास्क लगाएं, समय-समय पर हाथ की सफाई करें और शारीरिक दूरी बनाए रखें। भीड़-भाड़ में जाने से बचें। सभी लोग सावधानी को अपनाएं, जिससे कोरोना के खिलाफ लड़ाई जीती जा सके- भूपेश बघेल, मुख्यमंत्री, छत्तीसगढ़।

Edited By: Bhupendra Singh