नई दिल्‍ली, जेएनएन। भारत सहित लगभग सभी देशों में इंटरनेट के आगमन के बाद कई बड़े बदलाव हुए हैं। बच्चे अब डॉक्टर, इंजीनियर के साथसाथ पेशेवर यूट्यूबर बनने के सपने भी देख रहे हैं। एक शोध के मुताबिक, अब जितने बच्चे अंतरिक्ष यात्री बनना चाहते हैं, उससे तीन गुना ज्यादा यूट्यूबर बनने की ख्वाहिश रखते हैं। एक्रीडेटेड डेब्ट रिलीफ ने भारत सहित दुनिया के 187 देशों के सबसे लोकप्रिय यूट्यूबर की सूची जारी की थी। इसके आधार पर विजुअल कैपिटलिस्ट ने बताया है कि एक यूट्यूबर कैसे कमाई करता है और दुनिया में किस श्रेणी में कौन सा यूट्यूबर शीर्ष पर है। इस सूची में सिर्फ व्यक्तिगत तौर पर सफल यूट्यूबर के बारे में बताया गया है।

प्यूडाईपाई सबसे लोकप्रिय : दुनिया के सबसे लोकप्रिय यूट्यूबर प्यूडाईपाई हैं। उनका असली नाम फीलिक्स कियलबर्ग है और वे स्वीडन के हैं। उन्हें अपने लेट्स प्ले वीडियो के लिए जाना जाता है। वे वर्ष 2010 में यूट्यूब पर आए और अब उनके करीब 10.5 करोड़ से अधिक सब्सक्राइबर हैं। वे इंग्लैंड में हैं और उनका चैनल अमेरिका में पंजीकृत है।

भारत में सबसे ज्यादा कमाई करने वाले यूट्यूबर हैं अजय नागर : भारत में सबसे लोकप्रिय यूट्यूबर कैरी मिनाटी हैं। वर्ष 2014 में अपना यूट्यूब चैनल शुरू किया और सिर्फ छह वर्षों में ही उनके 2 करोड़ से ज्यादा सब्सक्राइबर हो चुके हैं। उनका असली नाम अजय नागर है। उन्होंने पहला वीडियो वर्ष 2010 में सिर्फ 10 साल की उम्र में यूट्यूब पर डाला था। 12वीं क्लास में इसे अपना पूर्णकालिक पेशा बना लिया। वर्ष 2019 में टाइम पत्रिका ने उन्हें अगली पीढ़ी का नेता बताया था। 10 लोगों की वैश्विक सूची में वे शामिल थे जो राजनीति, संगीत और अन्य क्षेत्रों में नए रास्ते बना रहे हैं।

इस तरह से पैसा कमाते हैं यूट्यूबर : विज्ञापन: यदि एक यूट्यूबर के पास एक हजार सब्सक्राइबर हैं और 4,000 घंटे तक उसके चैनल को देखा जाता है तो यूट्यूब उसके अकाउंट को विज्ञापन के जरिये होने वाली आय के लिए स्वीकार कर सकता है। यूट्यूबर को तभी भुगतान किया जाता है, जब एक दर्शक पूरा विज्ञापन देखे या उस पर क्लिक करे।

यूट्यूब प्रीमियम: यह एक मासिक सब्सक्रिप्शन सेवा है, जिसमें दर्शक अपने पसंदीदा कंटेंट को बिना विज्ञापन के देख सकते हैं। यूट्यूबर को सब्सक्रिप्शन के लाभ में से हिस्सा मिलता है। यह इस बात पर निर्भर करता है कि उनके चैनल को कितने लोगों ने देखा।

कॉरपोरेट स्पांसरशिप: अपने प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए विभिन्न कॉरपोरेट यूट्यूब चैनल्स को मोटी रकम देते हैं। कॉरपोरेट स्पांसरशिप को आर्किषत करने के लिए सब्सक्राइबर की संख्या अच्छी खासी होनी चाहिए।

व्यापारिक सामान: यदि किसी के पास निष्ठावान प्रशंसकों का समूह है तो वह सामान बेचकर अच्छी कमाई कर सकता है। अनुमान है कि यूट्यूबर प्यूडाईपाई महीने में सामान की बिक्री से करीब 60 लाख डॉलर (44.16 करोड़ रुपये) की कमाई करता है।

Posted By: Sanjay Pokhriyal

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस