चेन्नई। तमिलनाडु के मछुआरों के मुद्दे पर एक बार फिर मुख्यमंत्री जयललिता ने केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने श्रीलंकाई नौसैनिकों द्वारा गिरफ्तार किए गए राज्य के 34 मछुआरों की रिहाई को लेकर ठोस कदम न उठाने के लिए केंद्र की आलोचना की है। जयललिता ने मछुआरों की सुरक्षित रिहाई के लिए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से हस्तक्षेप करने की मांग की है।

मछुआरों का मुद्दा श्रीलंका सरकार के समक्ष उठाने और उनकी रिहाई को लेकर जयललिता पहले भी प्रधानमंत्री को पत्र लिख चुकी हैं। मनमोहन को लिखे पिछले पत्रों की याद दिलाते हुए जयललिता ने कहा कि केंद्र सरकार श्रीलंका की जेलों में बंद भारतीय मछुआरों की रिहाई को लेकर गंभीर नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा, 'तमिलनाडु के मछुआरों पर अकारण हमले और उन्हें श्रीलंकाई जेलों में रखने के मामले में मेरे कई पत्र लिखे जाने के बावजूद सरकार ध्यान नहीं दे रही है।' उन्होंने गिरफ्तार 34 मछुआरों की रिहाई के लिए प्रधानमंत्री से विदेश मंत्रालय को आदेश देने की मांग की है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस