जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। समुद्री जीव-जंतुओं की तस्करी रोकने के लिए सरकार अब मजबूती से कदम उठाने की तैयारी कर रही है। केंद्र ने कस्टम विभाग की मैरीन विंग को इस दिशा में सख्ती से कदम उठाने को कहा है।

सूत्रों ने कहा कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ इन्डायरेक्ट टैक्स एंड कस्टम यानी सीबीआइसी के अध्यक्ष एस रमेश ने इस संबंध में अधिकारियों को निर्देश दिया है। उन्होंने यह निर्देश ऐसे समय दिया है जब हाल ही में डीआरआइ ने शार्क मछलियों की तस्करी का बड़ा मामला पकड़ा था।

डीआरआइ ने हाल में पकड़ी थी 8,000 किलोग्राम शार्क फिन

उल्लेखनीय है कि राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआइ) ने 8000 किलोग्राम शार्क फिन (शार्क का अंक) पकड़ा है। शार्क फिन प्रतिबंधित है। डीआरआइ ने भारत के पश्चिमी तट पर तस्करों के खिलाफ कार्रवाई कर इसे पकड़ा था।

दो दिन पहले सीबीआइसी के सभी शीर्ष अधिकारियों को भेजे पत्र में रमेश ने इसके लिए डीआरआइ की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह सफलता भारतीय एजेंसियों की सीमावर्ती क्षेत्रों में विशेषज्ञता को दर्शाती है। साथ ही इससे भारतीय जल क्षेत्र में कस्टम की मौजूदगी की जरूरत भी रेखांकित होती है। इस क्षेत्र में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए कस्टम की निगरानी बेहद जरूरी है। इसलिए कस्टम विभाग की मैरीन विंग को इस क्षेत्र में और मजबूती से प्रयास करने चाहिए। 

Posted By: Bhupendra Singh