जेएनएन, नई दिल्ली। पुलवामा हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच आई कड़वाहट ईद पर थोड़ी दूर हुई। पंजाब के अटारी और जम्मू कश्मीर के आरएसपुरा में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बीएसएफ और पाकिस्तानी रेंजरों ने एक-दूसरे को मिठाई भेंट की।

बुधवार सुबह अटारी सीमा पर बीएसएफ और पाक रेंजरों के बीच जीरो लाइन पर पांच से छह मिनट का मिलन कार्यक्रम हुआ। पाकिस्तान सतलुज रेंजर्स के कमांडर मोहम्मद ख्वाजा खुर्शीद ने बीएसएफ के कमांडेंट मुकुंद कुमार झा को मिठाई भेंट की। झा ने भी पाक रेंजर्स को मिठाई और फलों का टोकरा भेंट किया।

पिछले साल दीवाली पर बीएसएफ ने पाक रेंजर्स को मिठाई नहीं दी थी। उधर, आरएसपुरा में आक्ट्राय पोस्ट पर बीएसएफ अधिकारियों ने पाकिस्तान रेंजर्स को ईद की बधाई देते हुए मिठाइयां भेंट कीं। करीब दस मिनट तक की बातचीत में अधिकारियों ने सीमा पर शांति और भाईचारा बनाए रखने की अपील भी की।

वहीं राजस्थान में ईद का त्योहार बुधवार को हर्षोल्लास से मनाया गया। पाक से सटे श्रीगंगानगर, जैसलमेर और बाड़मेर जिलों की बीएसएफ की पोस्टों पर पाकिस्तानी रेंजर्स की ओर से मिठाई दी गई। इसके जवाब में बीएसएफ के जवानों ने पाक रेंजर्स को ईद की मुबारकबाद दी। उधर, ईद के मौके पर अजमेर स्थित विश्वप्रसिद्ध ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में जन्नती दरवाजा खुला।

देशभर से दरगाह पहुंचे जायरिनों ने नमाज अदा की। जयपुर के जौहरी बाजार स्थित जामा मस्जिद में ईद पर सुबह नमाज अदा की गई। शहर के मुख्य बाजारों में बुधवार को रौनक देखने को मिली। प्रदेश के अन्य जिलों में भी ईद का त्योहार हर्षोल्लास से मनाया गया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सहित कई राजनेताओं ने ईद के मौके पर मुबारकबाद दी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस