नई दिल्‍ली, एएनआइ। मुंबई के कमला मिल्स में स्थित एचडीएफसी के वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ संघवी, जो बुधवार को संदिग्ध परिस्थतियों में लापता हो गए थे, उनका शव पुलिस ने बरामद कर लिया है। पुलिस ने हत्‍यारोपित सरफराज शेख को भी गिरफ्तार कर लिया है और जांच शुरू कर दी है। पता चला है कि दोस्तों ने जलन में भाड़े के कातिलों से उनकी हत्या करा दी थी, क्योंकि ये 35 साल की उम्र में ही बैंक के वाइस प्रेसिडेंट बन गए थे।

बता दें कि सिद्धार्थ बुधवार को संदिग्ध परिस्थतियों में लापता हो गए। हमेशा की तरह ही वह नियत समय पर ऑफिस से घर के लिए निकले थे, लेकिन घर नहीं पहुंच पाये, घर में पत्नी इंतजार करती रही और परेशान हो रात 10:00 बजे पुलिस में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करवा दी।

Mumbai: Body of missing bank executive found; woman detained

सिद्धार्थ संघवी 5 सितंबर को कमला मिल्स कार्यालय से लापता हुए थे और 6 सितंबर को कोपर खैराने क्षेत्र में उनकी कार मिली थी। पुलिस ने एनएम जोशी मार्ग पुलिस स्टेशन में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कर थी।

जानकारी के अनुसार, सिद्धार्थ कुमार सिंघवी मालाबार हिल में अपने परिवार के साथ रहते थे उनके परिवार में उनकी पत्नी और एक चार साल का बेटा है। सिद्धार्थ के लापता होने के अगले दिन नवी मुंबई से उनकी कार बरामद हुई जिसकी सीट पर खून के धब्बे थे। 

सिद्धार्थ संघवी की हत्‍या के लिए 20 वर्षीय कैब ड्राइवर सरफराज शेख को काम पर लगाया गया। उसे तीन लोगों ने हत्या का कॉन्ट्रैक्ट दिया था। उनमें से दो लोग एचडीएफसी में पहले काम कर चुके हैं और वह सिद्धार्थ की तरक्की और जल्दी हुए प्रमोशन्स से चिढ़े हुए थे। इसी वजह से सिद्धार्थ को मारना चाहते थे।

Posted By: Tilak Raj