नई दिल्ली । लगभग दस करोड़ सदस्यों के साथ विश्व की सबसे बड़ी पार्टी बनी भाजपा एक मई से नए सदस्यों को अपनी विचारधारा से जोड़ने और कार्यकर्ता बनाने के काम में जुटेगी। राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने इसकी घोषणा करते हुए यह आशा भी जताई कि पार्टी इन दस करोड़ सदस्यों के साथ सौ करोड़ जनता तक पहुंचेगी और विपक्ष की ओर से फैलाए जा रहे भ्रम का जवाब देगी। यह अभियान मई से शुरू होकर जुलाई तक चलेगा। उसके बाद प्रशिक्षण अभियान और साल के अंत तक संगठनात्मक चुनाव।

शाह ने सोमवार को महासंपर्क अभियान कार्यशाला का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि जो पार्टी कभी दस लोगों ने मिलकर बनाई थी वह अब दस करोड़ के पार जाने वाली है। जाहिर है कि जनता का भाजपा में भरोसा है। केंद्र में मोदी सरकार के कामकाज ने जनता के विश्वास को और बढ़ाया है। लेकिन अब उन नए सदस्यों तक पहुंचना जरूरी है। लिहाजा एक मई से कार्यकर्ता पार्टी से संबंधित दर्शन की जानकारी लेकर नए सदस्यों तक पहुंचेंगे। पार्टी की विचारधारा बताएंगे और कोशिश करेंगे कि नए सदस्य कार्यकर्ता भी बनें। स्पष्ट है कि आने वाली चुनौतियों को ध्यान मे रखते हुए नए सदस्यों को पूरी तरह पार्टी के साथ अडिग रखने की कोशिश होगी।

शाह ने आगे बताया कि यह अभियान खत्म होने के बाद एक अगस्त से 15 लाख कार्यकर्ताओं को चुनकर उन्हें प्रशिक्षण दिया जाएगा। अगले माह केंद्र सरकार का एक साल भी पूरा हो रहा है। ऐसे में नए कार्यकर्ता भी सरकार का संदेश पहुंचाने और विपक्ष का जवाब देने का माध्यम बनेंगे। शाह ने इसी ओर इशारा करते हुए कहा कि हमारे दस करोड़ सदस्य सवा सौ करोड़ लोगों तक पहुंचेंगे। गौरतलब है कि नए बने सदस्यों की जानकारी डाटाबैंक के जरिए संबंधित ब्लाक और तहसील तक होगी। कोशिश यह होगी कि पार्टी के कार्यक्रमों और योजनाओं के बारे में उनसे लगातार संवाद बना रहे।

पढ़ें : दलित-महादलित अपमान का बदला लेने की कार्यकर्ता संकल्प रैली: मोदी

बिहार में लगी होर्डिंग, राजनाथ को बताया भाजपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष

Edited By: Sachin Bajpai