कोझीकोड़, जेएनएन: भाजपा की शुक्रवार से शुरू हो रही राष्ट्रीय परिषद की तीन दिवसीय बैठक में भाजपा के आला नेता गरीबी उन्मूलन के प्रयास के तहत हाशिए पर पड़े वर्ग मसलन दलितों तक पहुंच बनाने के लिए अपने ‘गरीब कल्याण’ एजेंडे को आगे बढ़ाऐंगे। परिषद में उड़ी हमले की पृष्ठभूमि में आतंकवाद पर कड़ा संदेश भी दिया जा सकता है। बैठक में भाग लेने के लिए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह गुरूवार को यहां पहुंच चुके हैं। संयोग से इसी दिन विचारक दीन दयाल उपाध्याय की जन्मशती भी है।

पार्टी कार्यकर्ताओं की तरफ से स्वागत किए जाने के बाद शाह ने ट्वीट किया, ‘‘भाजपा की राष्ट्रीय परिषद में शामिल होने के लिए शिल्पनगरम (कोझिकोड़) पहुंच चुका हूं। केरल के लोगों के प्रेम और सहयोग के लिए मैं उनका आभारी हूं।’’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शनिवार को यहां पहुंचेगे और एक जनसभा को संबोधित करेंगे। उड़ी में हुए आतंकवादी हमले के बाद मोदी पहली बार किसी जनसभा को संबोधित करेंगे। इस हमले में सेना के 18 जवानों की मौत हो गई थी। मोदी परिषद को रविवार को संबोधित करेंगे।

पढ़ें- सपा-बसपा के रहते यूपी में गरीबों का भला नहीं हो सकता : अमित शाह


पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को उम्मीद है कि वे उड़ी हमले पर बोलेंगे। दरअसल पाकिस्तानी आतंकवादियों की तरफ से रक्षा संस्थानों को बार-बार निशाना बनाए जाने के कारण भगवा पार्टी आलोचनाओं को घेरे में है। इसकी एक वजह यह भी है कि मोदी ने आतंकी घटनाओं के बाद पाकिस्तान के प्रति नरम रूख अपनाने के लिए संप्रग सरकार की कई बार आलोचना की है। परिषद में 2,000 प्रतिनिधियों के शामिल होने की उम्मीद है। यहां मोदी उपाध्याय की जन्मशताब्दि समारोहों की शुरूआत करेंगे। ये समारोह सालभर चलेंगे।

पढ़ें- अमित शाह ने की भाजपा महासचिवों के साथ बैठक, कई मुद्दों पर हुई चर्चा

Posted By: Rajesh Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस