पंबा, प्रेट्र । गत वर्ष छह नवंबर को महोत्सव के दौरान सबरीमाला मंदिर में पूजा करने के लिए आई एक महिला पर हमले के मामले में पुलिस ने सोमवार को भाजपा केरल इकाई के एक पदाधिकारी को गिरफ्तार कर लिया। वीवी राजेश इस मामले में 15वां आरोपित है।

भगवान अयप्पा मंदिर जब विशेष पूजा के लिए खुला था, तब अपने नाती के चूरुनु (भात भोज महोत्सव) के लिए जा रही 52 वर्षीय ललिता को एक समूह ने रोक दिया था। लोगों को लगा था कि ललिता रजस्वला आयुवर्ग की हैं। कुछ ने उन्हें पीटने की भी कोशिश की।

पुलिस ने बताया, 'कोर्ट ने राजेश को जांच अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत होने का निर्देश दिया था। जब वह पहुंचे तो उनकी गिरफ्तारी दर्ज करते हुए 50 हजार रुपये के निजी मुचलके व इतनी ही राशि की दो प्रतिभूतियों के आधार पर उन्हें जमानत दे दी गई।' इस मामले में राजेश के अलावा चार अन्य भाजपा-आरएसएस कार्यकर्ता नामजद हुए थे।

उल्लेखनीय है कि पिछले साल 28 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट ने लैंगिक समानता का हवाला देते हुए सबरीमाला मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं के प्रवेश की इजाजत दे दी थी। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप