हैदराबाद, आइएएनएस। सम्‍मान और आदर मिलना तो खास है ही लेकिन उससे भी विशेष बात है उस सम्‍मान को बरकरार रखना और संभालना। तेलंगाना में कुछ ऐसा ही हुआ कांस्‍टेबल को सम्‍मानित तो किया गया पर वह अपना सम्‍मान बमुश्‍किल एक ही दिन संभाल पाया। स्‍वतंत्रता दिवस के मौके पर जिले का ‘सर्वश्रेष्‍ठ कांस्‍टेबल’ का सम्‍मान पाए एक दिन ही बीता और घूस लेते रंगे हाथों कांस्‍टेबल गिरफ्तार कर लिया गया।

एंटी करप्‍शन ब्‍यूरो (ACB) ने शुक्रवार को तेलंगाना के महबूबनगर में रेत व्‍यापारी से 17,000 रुपये लेते हुए कांस्‍टेबल पी तिरुपति रेड्डी को रंगे हाथों पकड़ लिया। बता दें कि कांस्‍टेबल को यह सम्‍मान स्‍वतंत्रता दिवस के मौके पर गुरुवार को दिया गया था।

महबूबनगर के पुलिस स्‍टेशन में तैनात कांस्‍टेबल रेड्डी व्‍यापारी मुदवथ रमेश को कथित तौर पर यह कहकर काफी दिनों से परेशान कर रहा था कि उसके ट्रैक्‍टर को वह जब्‍त कर लेगा। उसने यह भी कहा था कि अगर पैसे नहीं दिए तो रमेश को झूठे केस में फंसा देगा।

तब रमेश ने भ्रष्‍टाचार विरोधी एजेंसी (ACB) के पास मामला दर्ज कराया। इसके बाद ACB ने जाल बिछाया और कांस्‍टेबल को गिरफ्तार कर लिया। मात्र एक दिन पहले ही उसके कठिन परिश्रम और काम के प्रति कर्तव्‍यनिष्‍ठा के लिए सम्‍मानित किया गया था। 15 अगस्‍त को स्‍वतंत्रता दिवस के अवसर पर राज्‍य के आबकारी मंत्री वी श्रीनिवास ने उसे सम्‍मानित किया था।

Edited By: Monika Minal