नई दिल्ली, प्रेट्र। आयुष्मान भारत अभियान(Ayushman Bharat Campaign) के तहत देश में बीते एक दिन में रिकॉर्ड संख्या में लाभार्थियों का सत्यापन किया गया है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण ने मंगलवार को कहा कि आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना(Ayushman Bharat Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana scheme) के लॉन्च होने के बाद से 14 मार्च तक 8,35,089 लाभार्थियों का सत्यापन 'आप द्वार द्वार आयुष्मान'(Aapke Dwar Ayushman) अभियान के तहत किया गया। आयुष्मान भारत योजना के तहत पात्र लाभार्थियों को सत्यापित करने के उद्देश्य से एक फरवरी को आपके द्वार आयुष्मान पहल शुरू की गई थी।

ऐसे जानिए आप पात्र हैं या नहीं ?

कोई लाभार्थी Ayushman Bharat Golden Card का पात्र है या नहीं, यह प्रधानमंत्री जनआयोग्य की वेबसाइट पर पता लगाया जा सकता है। pmjay.gov.in की वेबसाइट पर 'Am I Eligible' ऑप्शन दिखाई देगा इस पर क्लिक करें और अपनी डिटेल्स दर्ज करें। यदि पात्र हैं तो Ayushman Bharat Golden Card डाउनलोड कर सकते हैं। 

ऐसे डाउनलोड करें कार्ड

इस योजना के जो भी लाभार्थी अपना गोल्डन कार्ड बनवाना चाहते हैं उन्हें अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र में जाकर आवेदन करना होगा। यह सुविधा ऑनलाइन भी उपलब्ध है। योजना के लाभार्थी अपना Ayushman Bharat Golden Card जन सेवा केंद्र और डीएम के कार्यालय से प्रिंट करवा सकते हैं। जानिए इसका आसान तरीका-

-  Ayushman Bharat Cloud Website पर जाना होएं | क्लाउड वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज ओपन होगा।

- होम पेज पर Log In का ऑप्शन दिखाई देगा लॉगिन फॉर्म में ईमेल आईडी और पासवर्ड डालकर Sign In पर क्लिक करें।

- इसके बाद एक नया पेज खुलेगा जिसमें कई विकल्प दिखाई देंगे, जिनमें से अप्रूवड बेनिफिशियरी पर क्लिक करें। क्लिक करने के बाद जिन लोगों का गोल्डन कार्ड अप्रूव हुआ है उसकी लिस्ट आ जाएगी।

- इसके बाद लिस्ट में अपना नाम देखें और उसके आगे कंफर्म प्रिंट के ऑप्शन पर क्लिक कर दें। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आप जन सेवा केंद्र वेलेट पर चले जाएंगे।

- इसके बाद  CSC वेलेट में अपना पासवर्ड डाले फिर पासवर्ड के बाद पिन दर्ज करें। इसके बाद आप फिर से होम पेज पर आ जाएंगे।

- इसके बाद फिर आपको केंडिडेट के नाम के आगे डाउनलोड कार्ड का विकल्प दिखाई देगा इस पर क्लिक कर दें और गोल्डन कार्ड को डाउनलोड कर लें।

कैसे हुई थी योजना की शुरुआत ?

गरीबों को बेहतर स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के लिए मोदी सरकार ने 2017 में प्रधानमंत्री जन आयोग्य योजना शुरू की थी। इसके तहत गरीबों को 5 लाख रुपए तक के मुफ्त इलाज की सुविधा दी जाती है। इस योजना के तहत आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड (Ayushman Bharat Golden Card) जारी किए जाते हैं। पात्रता पूरी करने वालों को ही यह कार्ड मिलता है। कार्ड Ayushman Bharat Yojana के लाभार्थी को ही मिलता है। आयुष्मान कार्ड एक पात्र लाभार्थी को योजना के तहत मुफ्त स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं के अपने अधिकार का दावा करने का विश्वास दिलाता है।

आपके द्वार आयुष्मान अभियान अब तक बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, पंजाब, उत्तराखंड, हरियाणा, जम्मू और कश्मीर जैसे राज्यों में सफलतापूर्वक लांच किया जा चुका है। इस साल कुल 1.2 करोड़ आयुष्मान कार्ड बनाए गए हैं। उम्मीद है कि अन्य राज्य जल्द ही इस अभियान में शामिल होंगे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप