नई दिल्ली, आइएएनएस। कांग्रेस में गहराते मतभेद के बीच पार्टी को अगले साल फरवरी से पहले नया अध्यक्ष मिलने की उम्मीद कम ही है। प्रस्तावित संगठनात्मक चुनाव के लिए निर्वाचक मंडल (इलेक्टोरल कॉलेज) की सूची को अंतिम रूप देने के लिए मंगलवार को पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक हुई।

अभी दो राज्यों ने एआइसीसी के सदस्यों की सूची ही तैयार नहीं की

मधुसूदन मिस्त्री की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह पाया गया कि अभी दो राज्यों ने अखिल भारतीय कांग्रेस समिति (एआइसीसी) के सदस्यों की सूची ही तैयार नहीं किया है, जो निर्वाचक मंडल बनाते हैं।

निर्वाचक मंडल द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष और कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्यों का चुनाव किया जाता है

निर्वाचक मंडल द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष और कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्यों का चुनाव किया जाता है। निर्वाचक मंडल की पूरी सूची तैयार होने के बाद चुनाव समिति मंजूरी के लिए उसे कांग्रेस अध्यक्ष के पास भेजेगी। इसमें कम से कम एक महीने का समय लग जाएगा।

चुनाव समिति पार्टी अध्यक्ष के लिए डिजिटल चुनाव कराने की तैयारी भी कर रही

सूत्रों ने बताया कि जनवरी के आखिरी हफ्ते में एआइसीसी की बैठक बुलाने की योजना है। चुनाव समिति जरूरत पड़ने पर पार्टी अध्यक्ष के लिए डिजिटल चुनाव कराने की तैयारी भी कर रही है। सूत्रों ने बताया कि निर्वाचक मंडल 2017 जैसी ही है, जिसने राहुल गांधी को निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया था।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021