नई दिल्ली, प्रेट्र। एयर इंडिया ने यौन उत्पीड़न के मामले में दोषी पाए गए वरिष्ठ पायलट कैप्टन सचिन गुप्ता को बहाल कर दिया है। कैप्टन गुप्ता पर एक सहयोगी महिला पायलट ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। इसके बाद पिछले साल मई में उन्हें निलंबित किया गया था।

आंतरिक समिति ने कैप्टन पर लगाया जुर्माना

अधिकारियों ने बताया कि महिला पायलट के आरोपों की जांच कर रही आंतरिक समिति ने कैप्टन सचिन गुप्ता पर 'बड़ा जुर्माना' लगाया है। हालांकि, उन्होंने सजा के खिलाफ उच्च प्राधिकार से अपील की है। इस संबंध में पूछे गए विशेष सवाल के जवाब में एयर इंडिया के क्षेत्रीय निदेशक (उत्तरी क्षेत्र) पीएस नेगी ने बताया, 'एयर इंडिया की आंतरिक शिकायत समिति (ICC) ने मामले की जांच की और कैप्टन सचिन गुप्ता को दुराचरण का दोषी पाया।'

उन्होंने कहा, 'सेवा नियमावली के तहत कैप्टन सचिन गुप्ता ने अब अगले उच्च प्राधिकार/सीएमडी (चेयरमैन व प्रबंध निदेशक) के समक्ष सजा के खिलाफ अपील की है। इस पर तय समय में विचार किया जाएगा।'

परिसर में बिना लिखित अनुमति के नहीं करेंगे प्रवेश

एक अन्य अधिकारी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि एयर इंडिया ने कैप्टन गुप्ता को बहाल कर दिया है। एयर इंडिया ने कैप्टन गुप्ता को पिछले साल यौन उत्पीड़न के आरोप में निलंबित करते हुए कहा था, 'इस मामले में जब तक जांच लंबित है तब तक आप एयर इंडिया लिमिटेड के परिसर में बिना लिखित अनुमति के प्रवेश नहीं करेंगे।'

पीड़ित महिला पायलट की तरफ से दर्ज कराई गई शिकायत में बताया गया है कि कथित वाकया पांच मई 2019 को हैदराबाद में हुआ। महिला पायलट कैप्टन गुप्ता के अधीन प्रशिक्षण ले रही थीं। उनका आरोप है कि कैप्टन गुप्ता ने उस दिन प्रशिक्षण के बाद एक रेस्त्रां में रात का खाना साथ खाने का प्रस्ताव दिया। आरोप है कि वहां कैप्टन गुप्ता ने महिला पायलट के साथ आपत्तिजनक बातें कीं।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस