हैदराबाद, एएनआइ। आंध्र प्रदेश में सोमवार को श्रीकालाहस्ती भगवान शिव मंदिर में चार महीनें बाद भक्त पूजा करने के लिए फिर पहुंचे। मंदिर में लगभग चार महीने के बाद भक्तों की भीड़ देखी गई। कोरोना महामारी के चलते मार्च के अंत से भक्तों के दर्शन के लिए रोक लगा दी गई थी। 

श्रीकालाहस्ती मंदिर में भगवान शिव और देवी पार्वती को वायु लिंगेश्वर और देवी श्री ज्ञान प्रसूनम्बा कहा जाता है।यह स्थान राहु केतु दोष निवारण पूजा के लिए प्रसिद्ध है। लॉकडाउन के बाद मंदिर में सभी तरह की पूजा रोक दी गई थी। कुछ दिनों पहले सभी सेवाओं को शुरू किया गया था। पिछले सप्ताह से भक्त धीरे-धीरे बढ़ रहे हैं। पिछले एक सप्ताह से लगभग 2,000 भक्त मंदिर का दौरा कर रहे हैं। इसके साथ ही मंदिर में रौनक लौट आई है।

बता दें कि देश में प्रत्येक दिन संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के 60 हजार 975 मामले सामने आए हैं और 848 लोगों की मौत हो गई है। वहीं 66 हजार 550 मरीज ठीक हुए। इस दौरान नौ लाख 25 हजार 383 सैंपल टेस्ट हुए।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में अब तक कोरोना के कुल 31 लाख 67 हजार 324 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से सात लाख चार हजार 348 एक्टिव केस हैं। 24 लाख चार हजार 585 मरीज ठीक हो गए हैं और 58 हजार 390 मरीजों की मौत हो गई है। रिकवरी रेट 76 फीसद के करीब और डेथ रेट 1.84 फीसद है। देश में अब तक कुल तीन करोड़ 68 लाख 27 हजार 520 सैंपल टेस्ट हुए हैं। 

देश में इस वक्त महाराष्ट्र सबसे ज्यादा संक्रमित राज्य है। यहां पर संक्रमितों की संख्या 6 लाख 82 हजार के पार पहुंच गया है वहीं मौत का आंकड़ा 22 हजार के पार पहुंच गया है। दूसरे नंबर पर संक्रमित राज्य तमिलनाडु है वहीं तीसरे नंबर पर संक्रमित देश आंध्र प्रदेश है। 

Edited By: Pooja Singh