कोरिया, राज्‍य ब्‍यूरो। छत्‍तीसगढ़ के कोरिया जिले के सोनहत विकासखंड अंतर्गत ग्राम बोडार में 12 फीट लंबे व भारी भरकम अजगर की चपेट में आने से महिला बार-बार बच गई। गुरुवार को अजगर एक बकरी को पकड़कर निगलने की तैयारी कर रहा था। सुबह गांव की महिला खेत की ओर काम करने गई थी। अजगर ने उस पर भी हमला बोला पर भाग निकली और गांव लौटकर घटना की जानकारी दी। इसके बाद मामले की जानकारी वन विभाग को दी गई। इसबीच अजगर बकरी को निकल गया। सूचना पर गांव पहुंची वन विभाग की टीम ने अजगर को पकड़कर करीब के जंगल में छोड़ दिया। 

अजगर से बचने का उपाय

बिलासपुर के वन्य प्राणी विशेषज्ञ डॉ.पीके चंदन ने कहा कि अजगर किसी भी जीव जंतु या इंसान को निगलने में पूरी तरह सक्षम है। आमतौर पर पहले यह शिकार को दबाकर मारता है। अपनी जकड़ में लेता है। उसके बाद परिस्थिति के अनुसार ही निगलता है। कभी कभी सीधे भी निकलता है। यदि कोई व्यक्ति इसके शिकंजे में आ जाए तो हिम्मत से काम लेना चाहिए। तत्काल प्रयास करना चाहिए कि अजगर के सिर को दबा कर पकड़ लें। दूसरे हाथ से पूंछ को सीधा करते रहना होगा। अजगर दबोचने का प्रयास जारी रखेगा लेकिन सफल नहीं होगा। पूंछ को सीधा करने से अजगर की पकड़ कमजोर हो जाएगी। यह जानकारी योग्य बात है कि अजगर प्रत्येक एक मिनट में अपने शरीर को शिथिल करता है। वह लगातार शिकार को जकड़कर नहीं रख सकता। यही वह समय है जब हम इससे बचकर निकल सकते हैं। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021