भोपाल, पीटीआइ। मध्य प्रदेश पुलिस (Madhya Pradesh Police) ने तबलीगी जमात के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने वीजा नियमों (violation of Foreigners Act and Indian Penal Code) का उल्लंघन करके भारत में तबलीगी जमात के निजामुद्दीन मरकज में शामिल होने वाले 60 से ज्‍यादा विदेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है। एक वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि भोपाल के विभिन्न पुलिस थानों में इन आरोपियों के खिलाफ सात मामले दर्ज किए गए थे।

भोपाल रेंज के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) उपेंद्र जैन (Upendra Jain) ने बताया कि तबलीगी जमात के विदेशी सदस्यों के खिलाफ वीजा शर्तों को तोड़ने के आरोप में मामले दर्ज किए गए थे। ये लोग पर्यटक वीजा पर आए हैं लेकिन इन लोगों ने धार्मिक गतिविधियों में हिस्‍सा लिया था जबकि नियमों के मुताबिक इन्‍हें ऐसा करने की इजाजत नहीं थी। यह वीजा शर्तों का उल्लंघन है जो विदेशी अधिनियम (violation of Foreigners Act) के तहत अपराध है।

वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी जैन ने बताया कि आरोपियों को गिरफ्तार करके इन्‍हें अदालत में पेश किया गया जहां इनकी जमानत याचिका खारिज कर दी गई। एक अन्य अधिकारी ने बताया कि शहर के ऐशबाग में मंगलवार को श्यामला हिल्स, पिपलानी और तलैया पुलिस थानों में दर्ज सात एफआईआर के आधार पर 64 विदेशी तब्‍लीगियों को गिरफ्तार किया गया। आरोप‍ियों को आइपीसी की धारा-188, धारा-269, धारा-270, राष्ट्रीय आपदा प्रबंध अधिनियम एवं विदेशी अधिनियम से जुड़ी धाराओं में गिरफ्तार किया गया है।

अध‍िकारियों ने बताया कि तब्‍लीगी जमात के इन विदेशी सदस्यों में से कुछ में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी जिसके बाद उनका इलाज किया गया और बाकी सदस्‍यों को आइसोलेशन में रखा गया था। पुलिस ने बताया कि तबलीगी जमात के उक्‍त विदेशी सदस्य किर्गिस्तान (Kyrgyzstan), उज्बेकिस्तान (Uzbekistan), कजाखिस्तान (Kazakhstan), तंजानिया, दक्षिण अफ्रीका (South Africa) और म्यांमार (Myanmar) के रहने वाले बताए जाते हैं। 

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस