भोपाल, पीटीआइ। मध्य प्रदेश के इंदौर में 20 दिनों के नवजात सहित दो साल से भी कम उम्र के 20 बच्चों और कोविड-19 के एक मरीज ने फतह हासिल की है। कुल 21 बच्चों ने जानलेवा कोरोना को हराया है। इसकी जानकारी अधिकारियों ने दी। सभी बच्चों की माताओं ने भी अपने प्यार से इस बीमारी से लड़ने में बच्चों का सहयोग किया।  

इंदौर स्थित चोईथ्रम अस्पताल के वरिष्ठ बाल रोग विशेषज्ञ डॉ। रश्मि शाद ने न्यूज एजेंसी  पीटीआइ को बताया कि 20 दिन की एक लड़की, और दो महिने की दो लड़के को 15 दिन पहले कोविड 19 के एक प्राइवेट वॉर्ड से छुट्टी दे दी गई थी। इन सभी के इलाज और कोरोना टेस्ट आने के बाद सभी को अस्पताल से छुट्टी दी गई। 

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि 20 दिनों के एक बच्चे को 1 मई को अस्पताल में शिफ्ट गया था। इलाज के बाद 9 मई को अस्पताल से इस बच्चे को छुट्टी मिल गई है। उन्होंने बताया कि बच्चे के अंदर कोरोना का संक्रमण उसके रिश्तेदार से आया था। 

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि वहीं अन्य 18 बच्चे भी कोविड-19 से मुक्त हो गए हैं। पिछले 45 दिनों से इन बच्चों का  अरबिंदो इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (Aurobindo Institute of Medical Sciences) में इलाज चल रहा था। जिन्हें इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई है।

निजी अस्पताल के चेस्ट रोग विभाग के प्रमुख डॉ। रवि डोसी ने बताया कि इन 18 बच्चों में से आठ से कम उम्र के थे। उन्होंने कहा कि यह मेरे लिए पूरी तरह से अलग अनुभव था। इन सभी बच्चों ने कोरोना वायरस को हराया है। उन्होंने कहा कि मैं अपनी खुशी को शब्दों में वर्णन नहीं कर सकता हूं।

बता दें कि अकेले इंदौर में अब तक 1,935 COVID-19 मामले और 90 दर्ज किए गए हैं। इस वक्त कोरोना वायरस लॉकडाउन का तीसरा चरण चल रहा है जो कि 17 मई तक लागू रहेगा।

Posted By: Pooja Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस