रायपुर, एनआइ। छत्तीसगढ़ के एक स्कूल हॉस्टल में एक छात्रा ने नवजात को जन्म दिया। दंतेवाडा में यह स्कूल मौजूद है। डिप्टी कलेक्टर के मुताबिक, पैदा हुए नवजात की मौत हो गई है। उन्होंने बताया कि छात्रा पिछले दो साल से अपने गांव के एक लड़के से संबंध में थी। उन्होंने बताया कि हॉस्टल अधीक्षक को बर्खास्त कर दिया गया है।

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि छात्रा को ऐसी स्थिति में अस्पताल लाया गया। छात्रा ने नवजात को जन्म दिया हालांकि उस दौरान ही नवजात मृत हो गया था। उन्होंने बताया कि मृत नवजात को छात्रा के परिवारवालों को सौंप दिया गया है। वहीं पूरे मामले की छानबीन हो रही है। उन्होंने बताया कि जांच के आधार पर आगे किसी भी प्रकार का एक्शन लिया जाएगा।

पहले भी हो चुकी ऐसी घटना

यह ऐसा पहला मामला नहीं है। इससे पहले देशभर में स्कूल में नवजात को जन्म देने के मामले आते रहे हैं। इससे पहले देश की राजधानी दिल्ली में 10वीं क्लास की छात्रा ने एक बच्चे को जन्म दिया था। यह घटना दक्षिणी दिल्ली में मौजूद साकते की थी। जहां पर एक 19 वर्षीय युवक ने छात्रा को अपने हवस का शिकार बनाया था। हैरानी की बात यह रही है कि बेटी के गर्भवती होने की खबर परिवारवालों को तीन दिन तीन पहले पता चला। डॉक्टरों की मानें तो छह महीने में ही पैदा हुआ बच्चा कमजोर, लेकिन वह स्वस्थ था।

आरोपित गिरफ्तार

अस्पताल से सूचना मिलने के बाद साकेत थाना पुलिस ने नाबालिग के बयान पर केस दर्ज कर आरोपित 19 वर्षीय ध्रुव पाठक को दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार किया है। आरोपित नाबालिग का वीडियो वायरल करने की धमकी देकर दुष्कर्म करता रहा।

पुलिस की मानें तो 15 वर्षीय पीड़िता दुष्कर्म पीड़िता अपने परिवार के साथ पुष्प विहार में रहती है औरवहीं के सरकारी स्कूल में 10वीं में पढ़ती भी है। पुलिस को नाबालिग ने बताया कि आरोपित ध्रुव ने उससे दोस्ती की और बहाने से एक कमरे पर ले जाकर दुष्कर्म किया। उसने पीड़िता से दुष्कर्म का वीडियो बना लिया। बाद में आरोपित वीडियो वायरल करने की धमकी देकर पीड़िता से बार-बार दुष्कर्म करता रहा।

 

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021